Friday, May 24, 2024
31.8 C
New Delhi

Rozgar.com

31.1 C
New Delhi
Friday, May 24, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeStatesChhattisgarhछत्तीसगढ़ में 12वीं बोर्ड की परीक्षा हुई शुरू, सीएम साय बोले- तनावमुक्त...

छत्तीसगढ़ में 12वीं बोर्ड की परीक्षा हुई शुरू, सीएम साय बोले- तनावमुक्त होकर एग्जाम दें स्टूडेंट्स

रायपुर

छत्तीसगढ़ में 12वीं बोर्ड की परीक्षा आज से शुरू हो गई है। 2 मार्च से 10वीं की परीक्षा शुरू होगी। दोनों ही कक्षाओं की परीक्षा में 5.97 लाख स्टूडेंट्स शामिल हो रहे हैं। माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव वीके गोयल ने बताया कि इस परीक्षा में कैलकुलेटर, मोबाइल, स्मार्ट वॉच ले जाना बैन है। सिर्फ मैनुअल साधारण घड़ी बच्चे अपने साथ रख सकते हैं। किसी भी तरह का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस भीतर नहीं ले जाया जा सकता।

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के अंदरूनी इलाके में स्थित एक परीक्षा केंद्र तक बोर्ड परीक्षा के प्रश्नपत्र पहुंचाने के लिए एक हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया। इसकी जानकारी अधिकारियों ने शुक्रवार को दी।

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीजीबीएसई) की 12वीं कक्षा की परीक्षा शुक्रवार से शुरू हो गई, जबकि 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं शनिवार से शुरू होने वाली हैं।
प्रश्नपत्र ले जाने के लिए फिर इस्तेमाल हुआ हेलीकॉप्टर

उन्होंने बताया कि यह लगातार दूसरा साल है जब सुकमा के जगरगुंडा परीक्षा केंद्र तक बोर्ड परीक्षा के प्रश्नपत्र ले जाने के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया है।

मुख्यमंत्री विष्णु देव साई के कार्यालय ने गुरुवार रात को अपने 'एक्स' हैंडल पर जगरगुंडा में केंद्र तक बोर्ड परीक्षा के प्रश्नपत्र पहुंचाने वाले हेलीकॉप्टर की तस्वीरें पोस्ट कीं और लिखा कि उनके राज्य में छात्रों का भविष्य सर्वोच्च प्राथमिकता है।

X पोस्ट में कहा गया, यह हमारा छत्तीसगढ़ है, जहां बच्चों का भविष्य हमारी सर्वोच्च चिंता है। प्रश्नपत्र हेलीकॉप्टर से सुकमा के जगरगुंडा भेजे गए। बोर्ड परीक्षाएं 1 मार्च से शुरू हो रही हैं।

बच्चों के भविष्य के लिए छत्तीसगढ़ सरकार प्रतिबद्ध- CM

सीएम साय ने स्थानीय जिला प्रशासन के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि आदिवासी क्षेत्रों में बच्चों के उज्ज्वल भविष्य को संवारने के लिए की गई पहल सराहनीय है।

इसमें कहा गया कि कोई भी बच्चा अच्छी शिक्षा से वंचित न रहे। छत्तीसगढ़ सरकार बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए प्रतिबद्ध है।

जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि सुकमा जिले में बोर्ड परीक्षाओं के लिए 16 केंद्रों में से, सुरक्षा कारणों के मद्देनजर प्रश्न पत्र 27 फरवरी को एक हेलिकॉप्टर से जगरगुंडा केंद्र पर भेजे गए थे।

उन्होंने कहा कि विभिन्न स्कूलों के कक्षा 12 के 16 और कक्षा 10 के 20 सहित कुल 36 छात्र जगरगुंडा केंद्र में परीक्षा देंगे।

यह दूसरी बार है जब प्रश्नपत्रों को जगरगुंडा ले जाने के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया।

राज्य भर में बने 2,475 परीक्षा केंद्र

पिछले शैक्षणिक सत्र में, जगरगुंडा में प्रश्न पत्रों के परिवहन के लिए एक हेलिकॉप्टर का उपयोग किया गया था, जिसे 2022-23 में पहली बार परीक्षा केंद्र बनाया गया था।

उन्होंने कहा कि पहले क्षेत्र के छात्रों को बोर्ड परीक्षाओं के लिए दोरनापाल जाना पड़ता था।

राज्य में चल रहे शैक्षणिक सत्र में 1 से 23 मार्च तक होने वाली कक्षा 12वीं की राज्य बोर्ड परीक्षा के लिए 2.61 लाख से अधिक छात्रों ने नामांकन किया है, जबकि 2 से 21 मार्च के बीच होने वाली कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाओं के लिए 3.45 लाख से अधिक छात्रों ने नामांकन किया है।

अधिकारियों ने बताया कि राज्य भर में कुल 2,475 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।