24.1 C
New Delhi
Saturday, March 2, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeSpiritualityPran Pratistha: Ram Mandir प्राण प्रतिष्ठा पर रोक लगाने 2 जनहित याचिकाएं...

Pran Pratistha: Ram Mandir प्राण प्रतिष्ठा पर रोक लगाने 2 जनहित याचिकाएं दायर, HC ने तत्काल सुनवाई से किया इंकार।

71 / 100

2 PILs filed to ban Ram Mandir Pran Pratistha, HC refuses immediate hearing.

Pran Pratistha:Pran Pratistha: यूपी की अयोध्या में नव निर्मित राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा से पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट में दो जनहित याचिकाएं दायर कर प्राण प्रतिष्ठा पर रोक लगाने की मांग की गई है. इसम मामले में हाईकोर्ट ने तत्‍काल सुनवाई से इंकार कर दिया है।

Pran Pratistha: Ram Mandir प्राण प्रतिष्ठा पर रोक लगाने 2 जनहित याचिकाएं दायर, HC ने तत्काल सुनवाई से किया इंकार। 2

Pran Pratistha: बता दें कि गाजियाबाद के भोला सिंह ने पहली जनहित याचिका दायर की है. याचिकाकर्ता ने हाईकोर्ट से समारोह में प्रधानमंत्री के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की भागीदारी को प्रतिबंधित करने का आग्रह किया है. याचिकाकर्ता ने 2024 के संसदीय चुनावों के पूरा होने तक और सनातन धर्म गुरु सभी शंकराचार्यों की सहमति मिलने तक इस पर प्रतिबंध की मांग की है. याचिकाकर्ता ने 22 जनवरी के आयोजन पर प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए तर्क दिया कि मंदिर अभी भी निर्माणाधीन है और देवता की प्राण प्रतिष्ठा सनातन परंपरा के विपरीत है. याचिकाकर्ता का यह भी कहना है कि हिंदू कैलेंडर के मुताबिक पौष माह में कोई भी धार्मिक और मांगलिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाने चाहिए।

Pran Pratistha: वहीं ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन (एआईएलयू) द्वारा दायर दूसरी जनहित याचिका में, याचिकाकर्ता ने 21 दिसंबर, 2023 को यूपी के मुख्य सचिव द्वारा जारी एक परिपत्र को चुनौती दी है. परिपत्र में जिला अधिकारियों को राम कथा, रामायण पाठ और भजन-कीर्तन आयोजित करने का निर्देश दिया गया है. 14 से 22 जनवरी तक राम, हनुमान और वाल्मिकी मंदिर में कलश यात्रा न‍िकालने के लिए कहा गया है, जो संविधान के मूल सिद्धांतों के विपरीत है।

यह भी पढ़े- योगी के कैबिनेट बैठक में किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी।