Tuesday, May 28, 2024
38.1 C
New Delhi

Rozgar.com

38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 28, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsलीवर ट्रांसप्लांट के लिए आर्मी हॉस्पिटल से डॉक्टर्स की एक टीम को...

लीवर ट्रांसप्लांट के लिए आर्मी हॉस्पिटल से डॉक्टर्स की एक टीम को एयरलिफ्ट किया, बचाई पूर्व सैनिक की बचा ली जान

नई दिल्ली
भारतीय वायुसेना ने एक बार फिर से अपनी तत्परता और क्षमता का परिचय दिया है। एयरफोर्स ने एक शॉर्ट नोटिस पर ही अपना डोर्नियर एयरक्राफ्ट भेज दिया। इस विमान ने नई दिल्ली के आर्मी हॉस्पिटल से डॉक्टर्स की एक टीम को एयरलिफ्ट किया और सेना के पूर्व जवान की जान बचाने के लिए पुणे से लीवर दिल्ली लाया गया। यह मिशन इसलिए भी बहुत खास रहा क्योंकि इसे शॉर्ट नोटिस पर अंजाम दिया गया। वायुसेना की ओर से रविवार को इसकी जानकारी दी गई। इसमें बताया गया कि बीते 23 फरवरी की रात को इस मिशन को अंजाम दिया गया।

इंडियन एयरफोर्स की ओर से बताया गया कि ट्रांसप्लांट सर्जरी के चलते इस व्यक्ति की जान बचाने में मदद मिली। सेना के इस प्रयास की काफी तारीफ हो रही है। सोशल मीडिया पर लोगों ने इसे लेकर सेना को अपना सलाम भेजा है। मालूम हो कि आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) को आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) के नाम से भी जाना जाता है। सशस्त्र बलों के लिए दिल्ली छावनी क्षेत्र में स्थित यह प्रमुख मेडिकल केयर सेंटर है, जहां सशस्त्र बलों से जुड़े कर्मियों और उनके परिवार के सदस्यों का इलाज किया जाता है।

बर्फीले तूफान में फंसे 80 से अधिक छात्रों को बचाया
कुछ दिनों पहले जम्मू में बर्फीले तूफान और भूस्खलन की वजह से जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर 80 से अधिक छात्र और शिक्षक फंस गए थे। इन सभी लोगों को सेना की टुकड़ी ने बचा लिया था। अधिकारियों ने बताया कि भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण सड़कें बाधित हो गईं, जिसकी वजह से कई यात्री खतरनाक जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर फंस गए। इनमें लॉ यूनिवर्सिटी के 74 छात्र और उनके साथ गए 7 कर्मी शामिल थे। उन्होंने बताया कि सेना के जवानों ने तेजी से कार्रवाई की। राजस्थान विधि महाविद्यालय के घबराए हुए कर्मचारियों और छात्रों को अवरुद्ध राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 44 से बचा लिया गया।