29 C
New Delhi
Friday, March 1, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeAap: सुपरहिट रहा केजरीवाल सरकार द्वारा आयोजित '2047 का भारत।

Aap: सुपरहिट रहा केजरीवाल सरकार द्वारा आयोजित ‘2047 का भारत।

Aap: ‘India of 2047’ organized by Kejriwal government was a super hit.

Aap: दिल्ली के स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों में 2047 में भारत जब अपनी आज़ादी की 100वीं वर्षगाँठ के बारे में अपने विचारों और जुनून को व्यक्त करने के लिए, केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के सभी स्कूलों के लिए “2047 में मेरे सपनों का भारत” प्रतियोगिता का आयोजन किया। शिक्षा मंत्री आतिशी गुरुवार को त्यागराज स्टेडियम में इसके समापन समारोह में शामिल हुई, प्रतियोगिता में शामिल बच्चों से बातचीत कर 2047 के भारत को लेकर उनके आइडियाज़, देश को लेकर उनके सपनों पार चर्चा की और प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित किया। गौरतलब है कि प्रतियोगिता में पूरी दिल्ली से लगभग 3.17 लाख छात्र और शिक्षक शामिल हुए थे और इसे जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली।

Screenshot 2023 08 24 at 6.50.33 PM
Aap: सुपरहिट रहा केजरीवाल सरकार द्वारा आयोजित '2047 का भारत। 2

Aap: कार्यक्रम के दौरान छात्रों को अपने संबोधन में बधाई देते हुए शिक्षा मंत्री आतिशी ने कहा, “यहाँ मौजूद छात्र जिस आत्मविश्वास के साथ 2047 के भारत के लिए अपना विज़न प्रस्तुत कर रहे है मुझे यह देखकर बेहद ख़ुशी हो रही है। मुझे विश्वास है कि हम अपने छात्रों के इसी आत्मविश्वास और विज़न की बदौलत, 2047 तक भारत को ज़रूर एक वैश्विक शक्ति और ग्लोबल लीडर में बदल देंगे। उन्होंने कहा कि, छात्रों ने 2047 में भारत के लिए अपने भविष्य के दृष्टिकोण को साझा किया है, चाहे वह महिलाओं सुरक्षा सुनिश्चित करने के विषय में हो, इलेक्ट्रिक वाहनों से आगे बढ़ने के बारे में हो, या सभी के लिए खाद्य सुरक्षा हासिल करने के विषय में हो। ये विचार इस बात पर ज़ोर डालते हैं कि प्रतियोगिता में भाग लेने वाला प्रत्येक बच्चा भविष्य के लिए एक बेहतर भारत की कल्पना कर रहा है।

Aap: उन्होंने कहा, “अगर इतनी कम उम्र से ही छात्र 2047 के भारत की कल्पना कर रहे है तो ज़रूर वे अपने इस सामूहिक सपने को वास्तविकता में बदलने में महत्वपूर्ण योगदान देंगे।”

Aap: शिक्षा मंत्री ने कहा कि,1947 से लेकर आज तक, भारत ने महत्वपूर्ण प्रगति की है, लेकिन अभी भी कई लक्ष्य हासिल किए जाने बाकी हैं और सुधार लागू किए जाने बाकी हैं। आज भी देश में बहुत से बच्चे ऐसे है जिन्हें अच्छी शिक्षा नहीं मिल पाती, बहुत से लोगों को हेल्थ-केयर सुविधाएँ नहीं मिल पाती,बेरोज़गारी है, महिलाओं-लड़कियों को अपने घर से बाहर जाने में असुरक्षा का भाव होता है।
Aap: यहां मौजूद छात्रों ने भी हर बच्चे के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करने, उच्च गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य देखभाल तक समान पहुंच की गारंटी देने, लिंग और जाति के आधार पर भेदभाव को खत्म करने और बाहर निकलने पर महिलाओं की असुरक्षा के मुद्दे को संबोधित करने के महत्व पर जोर दिया है। यदि आज यहां एकत्र हुए सभी छात्र भारत में परिवर्तन लाने का संकल्प लें, तो इसमें कोई संदेह नहीं है कि 2047 तक वो ज़रूर इस लक्ष्य को प्राप्त कर लेंगे।

यह भी पढ़ें :https://www.khabronkaadda.com/wfi-suspended/