Monday, April 15, 2024
24 C
New Delhi

Rozgar.com

24.1 C
New Delhi
Monday, April 15, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsप्रधानमंत्री ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, ''हर जगह एक ही...

प्रधानमंत्री ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, ”हर जगह एक ही आवाज सुनाई दे रही है और वह है ‘अब की बार, 400 पार’

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज झारखंड के दौरे पर हैं। उन्होंने यहां 35,700 करोड़ रुपए से अधिक की विकास परियोजनाओं का अनावरण किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने धनबाद में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि '400 पार' का नारा इसलिए लगाया जा रहा है, क्योंकि देश को "मोदी की गारंटी" पर भरोसा है।
 
'अब की बार, 400 पार'
प्रधानमंत्री मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, ''हर जगह एक ही आवाज सुनाई दे रही है और वह है 'अब की बार, 400 पार'। '400 पार' का नारा इसलिए लगाया जा रहा है क्योंकि देश को मोदी की गारंटी पर भरोसा है। मैं माफी मागंना चाहता हूं कि आज 'पंडाल' बहुत छोटा है। सिर्फ 5 फीसदी लोग अंदर हैं, बाकी 95 फीसदी प्रतिशत लोग बाहर धूप में हैं।'' उन्होंने आगे कहा कि एनडीए लोकसभा चुनाव में 400 से अधिक सीटें जीतेगी क्योंकि देश मोदी की गारंटी पर भरोसा कर रहा है।

मोदी की गारंटी के पूरा होने का उदाहरण
उन्होंने कहा कि उत्तरी करणपुरा बिजली परियोजना और सिन्द्री उर्वरक इकाई जैसे संयंत्रों का पुनरुद्धार मोदी की गारंटी के पूरा होने का उदाहरण है। झारखंड में झामुमो के नेतृत्व वाले गठबंधन पर तीखा हमला करते हुए मोदी ने आरोप लगाया कि इसने राज्य को लूटने का काम किया है। उन्होंने कहा, "मैंने झारखंड से बरामद नोटों के इतने बड़े बंडल नहीं देखे हैं…लोगों से जो भी पैसा लूटा गया है, उन्हें वापस करना होगा। यह मोदी की गारंटी है।" मोदी ने कहा, "राज्य में झामुमो के नेतृत्व वाले शासन में रंगदारी चरम पर है और तुष्टीकरण की नीति के कारण घुसपैठ हुई है।"
 
विकास विरोधी है INDI गठबंधन
उन्होंने विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया' पर निशाना साधते हुए कहा कि वह विकास विरोधी एवं जनविरोधी है। मोदी ने 35,700 करोड़ रुपये की कई परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। उन्होंने धनबाद जिले के सिन्द्री में स्थित हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) का 8,900 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित उर्वरक संयंत्र राष्ट्र को समर्पित किया।