19 C
New Delhi
Tuesday, March 5, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeRamesh Bidhuri: नोटिस के बाद रमेश बिधूड़ी को बड़ी जिम्मेदारी, BJP ने...

Ramesh Bidhuri: नोटिस के बाद रमेश बिधूड़ी को बड़ी जिम्मेदारी, BJP ने खास मिशन पर राजस्थान भेजा।

After the notice, Ramesh Bidhuri got a big responsibility.

कुछ दिन पहले ही दिल्ली से भाजपा के सांसद रमेश बिधूड़ी संसद में एक अपने अपमानजनक बयान को लेकर चर्चा में थे। ऐक्शन की मांग होने लगी। भाजपा ने कारण बताओ नोटिस भेजा। उनके जवाब मिलने से पहले ही पार्टी ने उन्हें इलेक्शन मैनेजर बनाकर राजस्थान भेजा है। हां उन्हें पायलट के जिले का प्रभारी बनाया गया है।

Ramesh Bidhuri: बसपा सांसद दानिश अली पर संसद में अपमानजनक बयान देकर घिरे रमेश बिधूड़ी को कुछ दिन बाद ही BJP ने बड़ी जिम्मेदारी दी है। राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर उन्हें सचिन पायलट के जिले में BJP उम्मीदवारों को जिताने का टास्क सौंपा गया है। राजस्थान कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व उपमुख्यमंत्री पायलट टोंक से विधायक हैं और माना जा रहा है कि वह इस बार भी वहीं से चुनाव लड़ सकते हैं। पायलट गुर्जर समुदाय से आते हैं। कांग्रेस आलाकमान के उन्हें मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज गुर्जरों को लुभाने के लिए BJP ने अपने एक गुर्जर सांसद रमेश बिधूड़ी को टोंक जिले का प्रभारी बनाया है। टोंक जिले को पायलट का गढ़ माना जाता है।

Ramesh Bidhuri: दरअसल, पिछले विधानसभा चुनाव में सचिन पायलट के राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष होने के नाते माना जा रहा था कि अगर कांग्रेस जीती तो मुख्यमंत्री सचिन पायलट ही बनेंगे इसलिए प्रदेश के गुर्जरों ने एकतरफा कांग्रेस के पक्ष में वोट किया था। भाजपा को गुर्जर बहुल सीटों पर नुकसान उठाना पड़ा था। इस बार BJP को लग रहा है कि कांग्रेस से गुर्जरों की नाराजगी का फायदा भाजपा को मिल सकता है। पार्टी की तरफ से अहम जिम्मेदारी मिलते ही रमेश बिधूड़ी तुरंत एक्टिव हो गए।

Ramesh Bidhuri: बिधूड़ी बुधवार को जयपुर भाजपा कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी और टोंक-सवाई माधोपुर के सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया के अलावा चुनाव अभियान और टोंक की समन्वय समिति में शामिल दूसरे नेताओं के साथ बैठक करते नजर आए। संसद में अपमानजनक बयान देने पर BJP ने बिधूड़ी को कारण बताओ नोटिस दिया था और 15 दिन में जवाब मांगा था।

Ramesh Bidhuri: हालांकि इससे पहले ही बिधूड़ी को अहम मिशन पर भेजा गया है। कई सांसदों ने लोकसभा अध्यक्ष बिरला को पत्र लिखकर उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। बिधूड़ी ने भाजपा अध्यक्ष जे. पी. नड्डा से मुलाकात कर दानिश अली मामले में अपनी सफाई भी दी थी।