20.1 C
New Delhi
Wednesday, February 21, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeLifestyleHealthCorona's JN 1 virus: सावधान! सीधे 3 गुना बढ़ गया कोरोना का...

Corona’s JN 1 virus: सावधान! सीधे 3 गुना बढ़ गया कोरोना का JN 1 वायरस, 6 राज्यों में 63 पॉजिटिव।

Attention Corona’s JN 1 virus increased 3 times, 63 positive in 6 states.

लंबे समय के विराम के बाद देश में एक बार फिर कोरोना वायरस ने पैर पसारना शुरू कर दिया है। इस बार रूप नया है, केरल में एक और मौत से देश में टेंशन है। सूत्रों के अनुसार, जेएन.1 के मामले एक दिन में तीन गुना की बढ़ोतरी देखी गई है। पहले 22 मामले जेएन.1 वैरिएंट के थे जो बढ़कर 63 हो गए हैं। वहीं एक स्टडी ने भी सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है। स्टडी में दावा किया जा रहा है कि कोरोना आपके गले को भी संक्रमित कर सकता है। इतना संक्रमित कि शायद आपकी आवाज भी जा सकती है। दूसरी ओर कोविड-19 के सब वैरिएंट JN.1 (BA.2.86.1.1) के अभी तक देश में 22 मामले कंफर्म हो चुके हैं। जीनोम टेस्टिंग में सामने आ रहा है कि कोरोना के XBB वैरिएंट के 90 फीसद मामले सामने रहे हैं। यानी जेएन.1 के मामले कम हैं। आइए नजर डाल लेते हैं कोविड से जुड़ी टॉप-5 अपडेट्स पर।

अलर्ट! एक दिन में तीन गुना बढ़ गए JN1 के केस

देश में 24 दिसंबर तक कुल 63 जेएन.1 कोविड वैरिएंट मामले सामने आए हैं। गोवा से 34 मामले, महाराष्ट्र से 9 मामले, कर्नाटक से 8 मामले, केरल से 6 मामले, तमिलनाडु से 4 मामले और तेलंगाना से 2 मामले सामने आए हैं। ये जानकारी सूत्रों के हवाले से दी गई है।

राज्यमामले
गोवा34
महाराष्ट्र9
कर्नाटक8
केरल6
तमिलनाडु4
तेलंगाना2

​24 घंटे में भारत में कोविड के 628 नए मामले, एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 4,054

भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 628 नए मामले आए और उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 4,054 हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह 8 बजे अद्यतन आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में केरल में संक्रमण से एक व्यक्ति की मृत्यु होने से, मृतक संख्या बढ़कर 5,33,334 हो गई। देश में वर्तमान में संक्रमितों की संख्या 4,50,09,248 है। स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार बीमारी से उबर चुके लोगों की संख्या बढ़कर 4,44,71,860 हो गई है जबकि रोग से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.81 प्रतिशत है। मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत है। मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, कोविड-19 रोधी टीके की अब तक 220.67 करोड़ खुराक दी जा चुकी है।


​JN.1 वैरिएंट के लिए जरूरी है बूस्टर डोज?

​JN.1 वैरिएंट के लिए जरूरी है बूस्टर डोज?

नया कोविड वेरिएंट आ गया है, लेकिन फिलहाल इसके लिए अतिरिक्त वैक्सीन खुराक की जरूरत नहीं है। ये सलाह जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इंसाकोग) के प्रमुख डॉ एनके अरोड़ा ने दी है। उन्होंने बताया कि खासतौर पर 60 साल से ऊपर के लोगों, जिनको पहले से कोई बीमारी है या जो इम्यूनिटी कम करने वाली दवाइयां ले रहे हैं, उन्हें सावधानी बरतनी चाहिए। अगर उन्होंने अब तक एहतियात नहीं बरती है, तो उन्हें सावधान रहना चाहिए, लेकिन फिलहाल किसी को भी अतिरिक्त वैक्सीन की जरूरत नहीं है। मुख्य बात यह है कि घबराएं नहीं, बस थोड़ी सी सावधानी बरतें। मास्क पहनें, शारीरिक दूरी बनाएं और साफ-सफाई का ध्यान रखें। अगर आपको कोई लक्षण दिखें, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

​कोरोना पर निगरानी बढ़ाएं… बढ़ते कोविड केस के बीच WHO का निर्देश

​कोरोना पर निगरानी बढ़ाएं... बढ़ते कोविड केस के बीच WHO का निर्देश

WHO दक्षिण-पूर्व एशिया की क्षेत्रीय निदेशक डॉ पूनम खेतरपाल सिंह ने कहा कि कोरोना वायरस लगातार विकसित हो रहा है, बदल रहा है और दुनिया भर के सभी देशों में फैल रहा है। खेतरपाल ने कहा कि हालांकि मौजूदा सबूत बताते हैं कि JN.1 से जनता के स्वास्थ्य को खतरा कम है, लेकिन हमें इन वायरसों के विकास पर नजर रखनी चाहिए और अपनी प्रतिक्रिया को उसी के अनुसार ढालना चाहिए। इसके लिए, देशों को निगरानी और जीनोम स्किवेंसिंग को मजबूत करना के साथ डेटा शेयर करना भी जरूरी है। यह सलाह भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि के बीच आई है, जो कि SEARO का ही हिस्सा है।

​भारत में कोराना मामलों में उछाल का कारण XBB?

​भारत में कोराना मामलों में उछाल का कारण XBB?

कोरोना की जांच में यह पाया गया है कि बढ़ते मामलों का कारणा JN.1 नहीं बल्कि XBB है। यह देश में पिछले 4-5 महीनों के डेटा को देखकर पता लगा है। मौजूदा आंकड़ों में XBB वैरिएंट के 80-90 प्रतिशत मामले रहे हैं। टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (NTAGI) के कोविड कार्यकारी समूह के अध्यक्ष और भारतीय सार्स कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG) के प्रमुख डॉ. एन. के. अरोड़ा ने एनबीटी से खास बातचीत में इसका भी जिक्र किया है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अभी जांच और जीनोम सिक्वेंसिंग से पता लगाया जाएगा कि भारत में कौन सा वायरस ज्यादा टेंशन दे रहा है। एक और ध्यान देने वाली बात यह है कि XBB वैरिएंट हो या फिर JN.1, दोनों के लक्षण एक जैसे ही हैं। ऐसे में यह पता लगा पाना मुश्किल है कि व्यक्ति कौन से वायरस से पीड़ित है।

​कोरोना आपकी आवाज भी छीन सकता है?

​कोरोना आपकी आवाज भी छीन सकता है?

कोरोना वायरस आपके गले को भी नुकसान पहुंचा सकता है। इतना कि इसकी वजह से आपकी आवाज भी जा सकती है। यह हम नहीं कह रहे बल्कि एक रिसर्च में खुलासा हुआ है। रिसर्च में बताया गया कि कोरोना का संक्रमण आपके गले को भी नुकसान पहुंचा सकता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इसे वोकल पैरालिसिस कहा जाता है। इससे होगा यह कि धीरे-धीरे इंफेक्शन के चलते आप अपनी आवाज खो देंगे और यह वास्तव में खतरनाक है।

​इन राज्यों में कोरोना को लेकर निर्देश

​इन राज्यों में कोरोना को लेकर निर्देश

बिहार सरकार ने सभी जिलों और अस्पतालों को कोविड-19 टेस्ट बढ़ाने के आदेश दिए हैं। पटना, गया और दरभंगा एयरपोर्ट पर आने वाले कुछ यात्रियों का रैंडम टेस्ट होगा। मिजोरम सरकार ने देश के कुछ हिस्सों में जेएन.1 सब-वेरिएंट के बढ़ते मामलों के मद्देनजर लोगों से आने वाले क्रिसमस-नए साल के त्योहारों के दौरान कोवि को लेकर बनाई गई गाइडलाइंस का पालन करने का अनुरोध किया है। जेएन.1 कोविड वेरिएंट के सामने आने के बाद, महाराष्ट्र के मंत्री संजय बंसोड ने स्वास्थ्य अधिकारियों को सरकारी अस्पतालों में वेंटिलेटर्स, ऑक्सीजन सिलेंडर और अन्य आवश्यक उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।