24.1 C
New Delhi
Saturday, March 2, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeBawal Controversey: जान्हवी कपूर-वरुण धवन की फिल्म 'बवाल' पर थम नहीं रहा...

Bawal Controversey: जान्हवी कपूर-वरुण धवन की फिल्म ‘बवाल’ पर थम नहीं रहा बवाल।

Bawal Controversey: The ruckus about famous actor Varun Dhawan’s film “Bawal” is increasing.

Bawal Controversey: मशहूर अभिनेता वरुण धवन की फिल्म “बवाल” को लेकर बवाल बढ़ता ही जा रहा हैं. फिल्म के कई डायलॉग्स और सीन्स लोगों को पसंद नहीं आ रहें हैं। रिलीज़ डे से ही फिल्म विवादों में आ गयी और अब ये विवाद इतना बढ़ गया कि इजराइल एंबेसी ने भी फिल्म के खिलाफ नाराजगी दिखाई है। बता दें कि यहूदी संगठन ‘द साइमन विसेन्थल सेंटर’ के बाद, अब इजरायल एंबेसी ने नितेश तिवारी की फिल्म ‘बवाल’ पर आपत्ति जताई है। कहा है कि फिल्म में यहूदियों के होलोकॉस्ट (नरसंहार) को गलत तरीके से दिखाया गया है। ऐसा करने से लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं।

Screenshot 2023 07 31 at 1.17.17 PM
Bawal Controversey: जान्हवी कपूर-वरुण धवन की फिल्म 'बवाल' पर थम नहीं रहा बवाल। 2

किस पर आधारित हैं फिल्म ?

Bawal Controversey: फिल्म ‘बवाल’ की कहानी हाई स्कूल के इतिहास के टीचर अजय दीक्षित जिनका किरदार वरुण धवन निभा रहें हैं और उनकी पत्नी निशा जिनका किरदार जाह्नवी कपूर निभा रहीं है। वे यूरोप दौरे पर जाते हैं, जहां वे ऐनी फ्रैंक के घर सहित विश्व युद्ध 2 के वक्त की सभी जगहों का दौरा करते हैं। फ़िल्म में कुछ विवाद भरे डायलॉग्स शामिल हैं जिस वजह से लोग इस फिल्म पर अप्पति जता रहें हैं। बताया जा रहा हैं कि फिल्म में वैवाहिक कलह और लालची लोगों की तुलना हिटलर से की गई है।

फिल्म को लेकर जरायली एंबेसी के नाओर गिलोन ने भी एक ट्वीट किया जिसमे उन्होंने लिखा कि इजरायली एंबेसी हालिया फिल्म ‘बवाल’ में होलोकॉस्ट के महत्व को घटिया बताए जाने से परेशान है। फिल्म में कुछ डायलॉग के इस्तेमाल भी गलत तरीके से हुए हैं, और हम मानते हैं कि कोई गलत इरादा नहीं था, हम उन सभी से आग्रह करते हैं जो होलोकॉस्ट के बारे में पूरी तरह से जागरूक नहीं हैं, वे इसके बारे में खुद को शिक्षित करें।’

“बवाल” पर इज़रायल ने जताई नाराज़गी

Bawal Controversey: मूवी को लेकर इज़राईल ने कहा ‘हमारी एंबेसी इस विषय पर एजुकेशनल कंटेट का प्रचार-प्रसार करने के लिए लगातार काम कर रही है, और हम बेहतर समझ को बढ़ावा देने के लिए सभी के साथ बातचीत करने के लिए तैयार हैं।’

बवाल के फ़िल्ममेकर पर भी उठे सवाल

Bawal Controversey: इससे पहले एसडब्ल्यूसी एसोसिएट डीन और ग्लोबल सोशल एक्शन के निदेशक रब्बी अब्राहम कूपर ने कहा था, ‘फिल्म में दिखाया गया पार्ट इंसानों की बुराई करने का एक उदाहरण है।’ कूपर ने कहा, ‘इस फिल्म में नितेश तिवारी ने घोषणा की कि ‘हर रिश्ता ऑशविट्ज़ के जरिए चलता है, हिटलर के नरसंहार शासन के हाथों 6 मिलियन मारे गए यहूदियों और लाखों लोगों की याद को अपमानित करता है। अगर फिल्म निर्माता का लक्ष्य कथित तौर पर किसी की मौत पर फिल्म बनाकर पीआर हासिल करना था, तो वह सफल हो गए हैं।’

यह भी पढ़ें :Haryana: सीएम का जनसंवाद कार्यक्रम कई मायनों में रहा खास।