Friday, April 19, 2024
37.9 C
New Delhi

Rozgar.com

37.9 C
New Delhi
Friday, April 19, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img

नक्सल भय को परे रखते हुए किया मतदाताओं ने किया मतदान

जगदलपुर   छत्तीसगढ़ में लोकसभा प्रथम चरण के चुनाव में एकमात्र बस्तर लोकसभा सीट पर मतदाताओं ने नक्सल भय को परे रखते हुए बुलेट के आगे...
HomeLifestyleHealthशतावरी के फायदे: शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए 5 अद्भुत गुण

शतावरी के फायदे: शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए 5 अद्भुत गुण

 सब्जियां सेहत का भंडार हैं क्योंकि इनमें वो सभी पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर को बीमारियों से बचाने और उसके कामकाज को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। पालक, भिन्डी, करेला जैसी आम सब्जियों का खूब सेवन किया जाता है लेकिन कुछ कम खाई जाने वाली सब्जियां सेहत को डबल फायदा देती हैं और उनमें से एक शतावरी (Asparagus) की सब्जी है। यह केवल एक सब्जी नहीं बल्कि जड़ी-बूटी है।

शतावरी के पोषक तत्व? यह एक बारहमासी पुष्प पौधा है, जिसकी दुनिया भर में खेती की जाती है और सब्जी के रूप में इसका सेवन किया जाता है। खास स्वाद और सेहत के फायदों के लिए इसकी काफी तारीफ की जाती है। यह कम कैलोरी वाली सब्जी है, जो फाइबर, विटामिन और मिनरल्स का एक बेहतरीन स्रोत है, जिसमें विटामिन के, सी, ए, फोलेट, पोटेशियम और मैंगनीज शामिल हैं।

शतावरी में एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोन्यूट्रिएंट्स जैसे फ्लेवोनॉयड्स, सैपोनिन और पॉलीफेनॉल भी पाए जाते हैं, जो इसके स्वास्थ्य लाभों को बढ़ाते हैं। SAAOL के फाउंडर और भारत के जानेमाने हार्ट के डॉक्टर बिमल छाजेड़ आपको इस शतावरी के फायदे बता रहे हैं।

कैंसर का खतरा कम कर सकती है

डॉक्टर के अनुसार, शतावरी में विभिन्न फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं और यह आपकी बॉडी में हार्ट की बीमारी, कैंसर और पोलूशन के इफेक्ट्स सब को खत्म कर देती है।

​जानिए शतावरी के सेवन से मिलने वाले 5 अद्भुत फायदे

इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने में सहायक

शतावरी विटामिन C से भरपूर होती है, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व है। विटामिन C श्वेत रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित करता है, शरीर की संक्रमणों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है और समग्र रोग प्रतिरोधक क्षमता का समर्थन करता है।

एंटीऑक्सीडेंट्स का खजाना

शतावरी में विटामिन C, विटामिन E और ग्लूटाथियोन सहित विभिन्न एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। ये शरीर में मौजूद हानिकारक फ्री रेडिकल्स को बेअसर करने में मदद करते हैं, जिससे पुरानी बीमारियों और ऑक्सीडेटिव तनाव से होने वाले नुकसान का खतरा कम होता है।

गर्भावस्था में सहायक

शतावरी फोलेट का एक उत्कृष्ट स्रोत है, जो गर्भावस्था के दौरान भ्रूण के विकास के लिए महत्वपूर्ण बी-विटामिन है। पर्याप्त मात्रा में फोलेट का सेवन न्यूरल ट्यूब दोषों को रोकने में मदद करता है और बच्चे के स्वस्थ विकास को बढ़ावा देता है। इसके सेवन से बच्चे होने का चांस भी बढ़ जाता है क्योंकि यह रिप्रोडक्टिव सिस्टम में सुधार करती है।

दिल को रखती है स्वस्थ

शतावरी में फोलेट और पोटेशियम पाए जाते हैं, जो हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। फोलेट होमोसिस्टीन के स्तर को कम करने में मदद करता है, जो एक एमिनो एसिड है और हृदय रोग के बढ़ते जोखिम से जुड़ा होता है। वहीं, पोटेशियम रक्तचाप को नियंत्रित करने और स्ट्रोक के खतरे को कम करने में मदद करता है।

यह भी हैं शतावरी के फायदे

शतावरी फाइबर का एक बेहतरीन स्रोत है, जो मल त्याग को नियमित करके, कब्ज को रोककर और आंतों के माइक्रोबायोटा को स्वस्थ रखकर पाचन क्रिया को दुरुस्त बनाती है। इसके अलावा यह शतावरी में कैलोरी की मात्रा कम होती है और फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो वजन घटाने वालों के लिए बढ़िया ऑप्शन है।