Thursday, June 20, 2024
31.1 C
New Delhi

Rozgar.com

31.1 C
New Delhi
Thursday, June 20, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsकेंद्र सरकार ने छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दर पर नया ऐलान...

केंद्र सरकार ने छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दर पर नया ऐलान किया, चेक करें नई ब्याज दर

नई दिल्ली
केंद्र सरकार ने छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दर पर नया ऐलान किया है। अगली तिमाही यानी अप्रैल से जून तक के लिए छोटी बचत योजनाओं की दर में कोई बदलाव नहीं हुआ है। बता दें कि छोटी बचत में एनएससी, सुकन्या, पीपीएफ (PPF) जैसी योजनाएं शामिल हैं। आमतौर पर सरकार तिमाही शुरू होने से एक या दो दिन पहले ब्याज दरों पर फैसला लेती है लेकिन इस बार करीब 3 हफ्ते पहले ही अगली तिमाही की ब्याज दरों का ऐलान कर दिया गया है।

वित्त मंत्रालय ने जारी किया नोटिफिकेशन
वित्त मंत्रालय की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है-वित्त वर्ष 2024-25 की पहली तिमाही, जो 1 अप्रैल 2024 से शुरू होकर 30 जून 2024 को समाप्त होगी, इसके लिए अलग-अलग छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरें अपरिवर्तित रहेंगी। चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (1 जनवरी से 31 मार्च 2024) के लिए तय ब्याज दरें भी अगली तिमाही के लिए लागू होंगी।

सुकन्या समृद्धि योजना की बढ़ी थी ब्याज दर
चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) के लिए केंद्र सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना पर ब्याज दर में 0.20 प्रतिशत की बढ़ोतरी की थी। इस वजह से योजना के तहत जमा पर ब्याज दर आठ प्रतिशत से बढ़कर 8.2 प्रतिशत हो गई। बता दें कि मोदी सरकार ने अपने पहले कार्यकाल में यह योजना बेटियों के लिए शुरू की थी। इस योजना के तहत 2 बेटियों के लिए 10 साल की उम्र तक अकाउंट खोले जा सकते हैं।

तीन साल की सावधि जमा पर भी हुआ था ऐलान
चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) के लिए तीन साल की सावधि जमा योजना पर ब्याज दर में भी 0.10 प्रतिशत बढ़ोतरी की गई थी। तीन साल की सावधि जमा पर दर सात प्रतिशत से बढ़कर 7.1 प्रतिशत हो गई।

पीपीएफ ब्याज दर लंबे समय से स्थिर: हालांकि, PPF पर ब्याज दर लंबे समय से 7.1 प्रतिशत पर है। इसके अलावा बचत जमा पर ब्याज दर चार प्रतिशत पर बरकरार है। किसान विकास पत्र पर ब्याज दर 7.5 प्रतिशत है। इसकी पूर्ण अविध 115 माह है। राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) पर ब्याज दर 7.7 प्रतिशत है। मासिक आय योजना के लिए ब्याज दर 7.4 प्रतिशत है।