Friday, May 24, 2024
31.1 C
New Delhi

Rozgar.com

31.1 C
New Delhi
Friday, May 24, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomePoliticsरक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- 'भारत में राम राज्य की शुरुआत...

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- ‘भारत में राम राज्य की शुरुआत हो गई है, इसे साकार होने से कोई नहीं रोक सकता’

नई दिल्ली
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि ‘राम राज्य' ने देश में जड़ें जमानी शुरू कर दी है और कोई भी इसे साकार होने से कोई नहीं रोक सकता। केंद्रीय मंत्री और भाजपा प्रत्याशी जितेंद्र सिंह के समर्थन में कठुआ के बसोहली में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने अनुच्छेद-370 को निरस्त करना, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण और नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लागू करने जैसे वादे पार्टी द्वारा पूरे किए जाने का जिक्र किया।

'यूसीसी को लागू करने का वादा निभाएंगे'
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बनाने के लिए नहीं, बल्कि देश के लिए राजनीति कर रही है, जिसने जनता और नेताओं के बीच विश्वास की कमी के कारण पैदा हुई बड़ी मुश्किल से देश को बाहर निकाला है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सिंह ने लोगों को आश्वस्त किया कि सीएए लागू होने के बाद किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता समाप्त नहीं होगी। उन्होंने साथ ही कहा कि भाजपा अगले पांच वर्षों में पार्टी घोषणापत्र में किए गए वादे के अनुसार समान नागरिक संहिता (यूसीसी) को लागू करने का अपना वादा निभाएगी। उन्होंने तीन तलाक (तलाक ए बिद्दत) पर रोक का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘चाहे हम सरकार बनाएं या न बनाएं, महिलाओं की गरिमा और सम्मान पर हमला हमें स्वीकार्य नहीं है।''

'भारत में राम राज्य की शुरुआत हो गई है'
सिंह ने कहा, ‘‘मुझे लग रहा है कि देश में राम राज्य की स्थापना शुरू हो गई है और इसे साकार होने से कोई नहीं रोक सकता। राम राज्य का अर्थ है कि लोगों को अपने कर्तव्यों के प्रति बोध और जागरूकता हो। समस्या तब होती है जब लोगों में अधिकार की भावना होने लगती है।'' कठुआ जिला उधमपुर संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है जहां पर सात चरणीय लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 19 अप्रैल को मतदान होगा। वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि देश में ऐसी स्थिति बन रही है जहां लोग अपने कर्तव्यों को समझ रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जब सरकार में बैठे लोग जिम्मेदारी से अपना कर्तव्य निभाएंगे तो धीरे-धीरे लोगों में भी जागरूकता आएगी। हम सरकार बनाने के लिए नहीं बल्कि देश के लिए राजनीति कर रहे हैं।''

'जितेंद्र सिंह की जीत का जताया भरोसा'
रक्षामंत्री ने उधमपुर सीट से जितेंद्र सिंह की लगातार तीसरी बार भारी अंतर से जीत का भरोसा जताते हुए लोगों से अपील की कि वे भारतीय जनसंघ से लेकर अबतक के पार्टी के घोषणापत्रों को पढ़ें और यह देखें कि ‘‘हमने अपने सभी वादे पूरे किए हैं।'' सिंह ने कहा, ‘‘हमने अनुच्छेद 370 (जो जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करता था) को समाप्त कर इसे देश के अन्य हिस्सों के बराबर ला दिया। विपक्षी दल 1984 से राम मंदिर के निर्माण की बात कर रहे थे, लेकिन यह हमने किया और हमारे प्रधानमंत्री ने 22 जनवरी को इसकी ‘प्राण प्रतिष्ठा' की।''

यूसीसी पर विपक्ष फैला रहा भ्रम
उन्होंने कहा, ‘‘हमने सीएए लागू किया लेकिन ऐसे लोग हैं जो गलतफहमी पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि कोई भी भारतीय नागरिक अपनी नागरिकता नहीं खोने जा रहा है।'' सिंह ने आगे कहा, ‘‘हमने अगले पांच साल में यूसीसी को लागू करने का वादा किया है और मुझे आश्चर्य है कि ऐसा क्यों नहीं किया जाना चाहिए।'' उन्होंने कहा, ‘‘स्वतंत्र भारत में उन नेताओं के कारण पैदा हुई विश्वास की कमी से एक बड़ी समस्या पैदा हो गई थी, जो कहते कुछ थे और करते कुछ और थे। जनता और नेताओं के बीच विश्वास की इस कमी को भाजपा ने खत्म किया।''
 
'महिलाओं के सम्मान पर हमला बर्दाश्त नहीं'
तीन तलाक का जिक्र करते हुए सिंह ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि आप दूसरों के धार्मिक मामलों में क्यों दखल दे रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन्हें यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि कोई भी महिला, चाहे वह किसी भी धर्म की हो, हमारी मां, बहन और बेटी है। महिलाओं की अस्मिता और सम्मान पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हम सरकार बनायें या न बनायें, हम ऐसी बात कैसे स्वीकार कर सकते हैं जो उन्हें अपने घर से बाहर निकाल देगी।'' उन्होंने कहा कि भाजपा जो कह रही है वह कर रही है लेकिन कांग्रेस के साथ ऐसा नहीं है। उसने इतने दशकों तक देश पर शासन किया लेकिन वह देश को एक शक्तिशाली राष्ट्र बनाने में विफल रही जो उसे तीन दशक पहले करना चाहिए था।