29 C
New Delhi
Friday, March 1, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeDelhi's air quality: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने दिल्ली की वायु गुणवत्ता में...

Delhi’s air quality: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने दिल्ली की वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए पीएमओ और दिल्ली के उपराज्यपाल की पहल का स्वागत किया।

Delhi BJP President welcomed the initiative of PMO and Lieutenant Governor of Delhi to improve Delhi’s air quality.

दिल्ली के लोग सीएम अरविंद केजरीवाल से जानना चाहते हैं कि उन्होंने पिछले 6 महीनों के दौरान कृषि अवशेष जलाने पर रोक लगाने और सर्दियों में प्रदूषण रोकने के कदमों पर चर्चा करने के लिए पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्रियों के साथ कितनी बैठकें की हैं – वीरेंद्र सचदेवा

केजरीवाल सरकार हर साल बड़े पैमाने पर सड़क के किनारे वृक्षारोपण करने का दावा करती है, फिर भी हमारे सामने मीलों तक धूल भरी टूटी हुई सड़कें हैं जो दिल्ली की वायु गुणवत्ता को खराब करती हैं – वीरेंद्र सचदेवा

नई दिल्ली 14 अक्टूबर : दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री वीरेंद्र सचदेवा ने प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. पी. के. मिश्रा और दिल्ली के उपराज्यपाल श्री विनय कुमार सक्सेना की दिल्ली की वायु गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करने के कदम उठाने की पहल का स्वागत किया है।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है कि ऐसे समय में जब दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब होने लगी है, यह खेदजनक है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने पंजाब समकक्ष भगवंत मान के साथ एक राज्य से दूसरे राज्य में चुनाव प्रचार कर रहे हैं।

पंजाब एक ऐसा राज्य है जो किसानों द्वारा धान की फसल के अवशेष जलाने के कारण होने वाले वायु प्रदूषण के लिए काफी हद तक जिम्मेदार है, जो हर साल दशहरा और दिवाली के आसपास दिल्ली की हवा में जहर घोलता है और आश्चर्य की बात यह है कि दोनों में आम आदमी पार्टी का शासन है। दोनों मुख्यमंत्री हर तीसरे दिन साथ दिखते हैं पर दोनों ने पिछले कुछ महीनों के दौरान कृषि अवशेषों के मुद्दे को हल करने के लिए अधिकारियों की एक भी बैठक नहीं बुलाई है।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है कि दिल्ली के 2.5 करोड़ से अधिक लोग एनसीआर में वायु प्रदूषण को कम करने के लिए तत्काल कदमों पर चर्चा करने के लिए पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिवों की बैठक बुलाने के लिए पीएमओ के आभारी हैं।

साथ ही दिल्ली के उपराज्यपाल ने हरियाणा और पंजाब के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर कृषि अवशेष जलाने पर तत्काल रोक लगाने का अनुरोध किया है जो एक स्वागत योग्य पहल है।

दिल्ली के लोग सीएम अरविंद केजरीवाल से जानना चाहते हैं कि उन्होंने पिछले 6 महीनों के दौरान कृषि अवशेष जलाने पर रोक लगाने और सर्दियों में प्रदूषण की जांच करने के कदमों पर चर्चा करने के लिए पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्रियों के साथ कितनी बैठकें की हैं।

श्री सचदेवा ने कहा है कि केजरीवाल सरकार यह कहकर प्रदूषण पर दिल्ली को गुमराह कर रही है कि फसल अवशेष जलाना और पटाखे सर्दियों के प्रदूषण का मुख्य कारण हैं जबकि मुख्य कारण सड़क की धूल है।

केजरीवाल सरकार हर साल बड़े पैमाने पर सड़क किनारे वृक्षारोपण करने का दावा करती है, फिर भी हमारे सामने मीलों तक धूल भरी टूटी सड़कें हैं, जिससे दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब हो रही है और इसे ठीक करने की जरूरत है।