16.8 C
New Delhi
Tuesday, March 5, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeदिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने अरविंद केजरीवाल पर लगाया भष्ट्राचार...

दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने अरविंद केजरीवाल पर लगाया भष्ट्राचार का आरोप।

Delhi BJP State President Virendra Sachdeva accused Arvind Kejriwal of corruption.

अरविंद केजरीवाल के बयान पर प्रतिक्रिया

अरविंद केजरीवाल और उनकी टीम पीड़ित कार्ड खेलती रहती है और अपने आडंबरपूर्ण बयानों को दोहराती रहती है, तब ऐसा लगता है उन्हे न्यायलय पर भी विश्वास नही बचा है — वीरेंद्र सचदेवा

केजरीवाल के 10 वर्तमान और पूर्व विधायक गंभीर आपराधिक अदालती मुकदमे का सामना कर रहे हैं या उन्हें दोषी ठहराया गया है और यह चौंकाने वाला है कि अरविंद केजरीवाल इसे उत्पीड़न कहते हैं — वीरेंद्र सचदेवा

सीएम बंगला घोटाला और पैनिक बटन घोटाले ने सीएम केजरीवाल की सरकार पर लोगों का जो भी थोड़ा बहुत भरोसा था, उसे भी पूरी तरह से खत्म कर दिया है — वीरेंद्र सचदेवा

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री वीरेंद्र सचदेवा ने कहा है कि सीएम अरविंद केजरीवाल की सरकार और पार्टी दोनों भ्रष्टाचार में डूबे हुए हैं।

दिल्ली ने भाजपा और कांग्रेस दोनों की सरकारें देखी हैं, लेकिन किसी भी सरकार ने इतना भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद नही किया जितना केजरीवाल सरकार ने किया है।

अरविंद केजरीवाल का दावा है कि केंद्र सरकार उनके विधायकों और मंत्रियों को प्रताड़ित कर रही है, लेकिन जब न्यायलय में लंबित मामलों में कहते हैं की केंद्र उन्हें प्रताड़ित कर रहा है तो ऐसा लगता है केजरीवाल को अब न्यायलय पर भी विश्वास नही बचा है।

इसी तरह प्रकाश जारवाल, अखिलेश पति त्रिपाठी, संजीव झा, सोम दत्त, मनोज कुमार, अब्दुल रहमान, गुलाब सिंह, सोमनाथ भारती, शरद चौहान, अमानतुल्लाह खान जैसे विधायक, पूर्व मंत्री संदीप कुमार और जितेंद्र तोमर जमानत पर हैं और अदालती मामलों का सामना कर रहे हैं।

यह चौंकाने वाला है कि अरविंद केजरीवाल उत्पीड़न का दावा कर रहे हैं, जबकि 10 से अधिक विधायक गंभीर आरोपों का सामना कर रहे हैं।

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष ने कहा है कि केजरीवाल सरकार के डीटीसी बस खरीद घोटाला, ऑटो मीटर घोटाला, स्कूल रूम घोटाला, शराब घोटाला, जासूसी घोटाला और कोविड चरण के दौरान सीएम केजरीवाल के बंगले के अवैध निर्माण ने दिल्ली के लोगों के विश्वास को चकनाचूर कर दिया है।

यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी कि सीएम बंगला घोटाला और पैनिक बटन घोटाले ने सीएम केजरीवाल की सरकार पर लोगों का जो थोड़ा बहुत भरोसा था, उसे भी पूरी तरह से खत्म कर दिया है।