Thursday, June 20, 2024
31.1 C
New Delhi

Rozgar.com

31.1 C
New Delhi
Thursday, June 20, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeSportsधर्मशाला टेस्ट: टीम इंडिया ने तीसरे दिन ही इंग्लैंड को धो डाला,...

धर्मशाला टेस्ट: टीम इंडिया ने तीसरे दिन ही इंग्लैंड को धो डाला, पारी और 64 रन से जीत

धर्मशाला

रोहित शर्मा और शुभमन गिल के शतकों के बाद रविचंद्रन अश्विन की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने पांचवें टेस्ट में इंग्लैंड को हरा दिया. भारत ने धर्मशाला के एचपीसीए स्टेडियम में खेले गए पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के तीसरे दिन शनिवार को ही इंग्लैंड को पारी और 64 रनों से हरा दिया. इसी के साथ भारत ने ये सीरीज 4-1 से अपने नाम की. धर्मशाला टेस्ट इस सीरीज का पहला मैच है जो तीन दिन में खत्म हुआ है. इससे पहले सभी चारों मैच चौथे दिन तक गए थे. टीम इंडिया की ये जीत काफी ऐतिहासिक है क्योंकि टेस्ट क्रिकेट में 112 साल बाद कोई टीम पहला टेस्ट मैच हारने के बाद पांच मैचों की टेस्ट सीरीज 4-1 की स्कोरलाइन से जीती है.

इंग्लैंड ने हैदराबाद में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत को हरा दिया था. तब लगा था कि इंग्लैंड की टीम भारत को परेशानी में डाल सकती है. दूसरे मैच में भी कुछ ऐसा ही लगा लेकिन भारत ने ये मैच जीता. इसके बाद इंग्लैंड की टीम भारत को उस तरह की टक्कर नहीं दे सकी जिसकी उम्मीद की जा रही थी.

अश्विन का कमाल

मैच के तीसरे दिन टीम इंडिया ने अपने कल के स्कोर आठ विकेट के नुकसान पर 473 रनों से पारी शुरू की. भारतीय टीम अपने खाते में चार रन ही जोड़ सकी और ऑल आउट हो गई. कुलदीप यादव को आउट कर जेम्स एंडरसन ने टेस्ट में अपने 700 विकेट पूरे किए. इसके बाद शोएब बशीर ने जसप्रीत बुमराह को आउट कर भारतीय पारी का अंत कर दिया. भारत ने इंग्लैंड पर 259 रनों की बढ़त ले ली थी. ये बढ़त इंग्लैंड के लिए ज्यादा साबित हुई और उसे पारी से हार का सामना करना पड़ा. पहली पारी में इंग्लैंड के चार विकेट लेने वाले अश्विन ने दूसरी पारी में पांच विकेट लिए और इसी के साथ वह भारत के लिए टेस्ट में सबसे ज्यादा बार फाइव विकेट हॉल लेने वाले गेंदबाज बन गए. उन्होंने इस मामले में अनिल कुंबले को पीछे छोड़ा. अश्विन ने 36वीं बार एक पारी में पांच विकेट लिए जबकि कुंबले ने 35 बार ये काम किया था.

रोहित की पीठ में जकड़न थी इसलिए वह मैदान पर नहीं उतरे. बुमराह ने उनकी जगह कप्तानी की और पहला ही ओवर अश्विन को दिया. अश्विन ने पहले ही ओवर में बेन डकेट को आउट कर दिया. वह दो रन बना पाए. इस ऑफ स्पिनर का अगला शिकार बने जैक क्रॉली जो बिना खाता खोले आउट हो गए. ऑली पोप को भी अश्विन ने अपना शिकार बनाया जो 19 रन बनाकर आउट हुए. इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स (2) भी अश्विन की फिरकी में फंस गए. विकेटकीपर बेन फोक्स (8) को आउट कर अश्विन ने अपने पांच विकेट पूरे किए.

रविचंद्रन अश्विन ने 100वें टेस्ट में किया कमाल, 36वीं बार लिया फाइव विकेट हॉल
अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे रविचंद्रन अश्विन ने चार विकेट लेकर भारत को इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के तीसरे दिन लंच से पहले ही बड़ी जीत की तरफ अग्रसर कर दिया था। पहली पारी में 259 रन से पिछड़ने वाले इंग्लैंड ने लंच तक अपनी दूसरी पारी में 5 विकेट पर 103 रन बनाए थे और उसे पारी की हार से बचने के लिए अब भी 156 रन की दरकार थी। उसकी पारी 195 रनों पर ढेर हो गई। लंच के बाद जब खेल शुरू हुआ तो अश्विन ने बेन फोक्स के विकेट के साथ 36वां फाइव विकेट हॉल पूरा किया। इसके बाद बुमराह ने एक ही ओवर में 2 विकेट झटकते हुए इंग्लैंड को हार की ओर धकेल दिया। हालांकि, इन सभी के बीच जो रूट ने एक छोर संभाले रखा और हाफ सेंचुरी जड़ी। वह 84 रन बनाकर आखिरी विकेट के रूप में आउट हुए।

इंग्लैंड के बल्लेबाजों को भारी पड़ी आक्रामक बैटिंग
इससे पहले दूसरी पारी में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने इसके बाद आक्रामक रूख अपनाया और इस प्रयास में अपने विकेट गंवाए। इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स (2) को लंच से ठीक पहले अश्विन ने पवेलियन की राह दिखाई। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा पीठ में जकड़न के कारण मैदान पर नहीं उतरे और ऐसे में बुमराह ने टीम की अगुवाई करते हुए अश्विन के साथ नई गेंद संभाली। अश्विन ने शुरू से ही इंग्लैंड पर कर बरपाया। उन्होंने एक बार फिर इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज बेन डकेट (02) को नहीं टिकने दिया। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज पिछले मैचों में भी अश्विन के सामने संघर्ष करता हुआ नजर आया था।

रूट ने जमाए पैर

एक छोर से अश्विन विकेट ले रहे थे तो दूसरे छोर से इंग्लैंड की टीम के सबसे अच्छे बल्लेबाज जो रूट ने पैर जमा लिए थे. वह लगातार रन बना रहे थे. अश्विन के साथ अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे जॉनी बेयरस्टो इस बार अच्छी पारी खेलते दिख रहे थे लेकिन एक बार फिर कुलदीप यादव की फिरकी उनके लिए अबूझ पहेली साबित हुई. कुलदीप ने उन्हें एलबीडब्ल्यू करा दिया. बेयरस्टो ने 31 गेंदों पर 39 रन बनाए. अपनी पारी में उन्होंने तीन चौके और इतने ही छक्के मारे. बुमराह ने टॉम हार्टली और मार्क वुड को एक ही ओवर में आउट कर भारत को जीत के करीब पहुंचा दिया. रवींद्र जडेजा ने बशीर को बोल्ड कर इंग्लैंड को नौवां झटका दिया. जडेजा ने फिर रूट को आउट कर भारत को जीत दिला दी.

यूं धड़ाधड़ गिरे इंग्लैंड के विकेट
उन्होंने जवाबी हमला करने की रणनीति अपनाई लेकिन अश्विन की गेंद उनको गच्चा देकर विकेटों में समा गई। पिच से टर्न और उछाल मिल रही थी और ऐसे में अश्विन ने जैक क्राउली (0) के लिए लेग स्लिप लगाई। उनकी गेंद इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर लेग स्लिप में खड़े सरफराज खान के सुरक्षित हाथों में चली गई। अश्विन ने ओली पोप (19) के रूप में अपना तीसरा विकेट लिया।

इंग्लैंड के बल्लेबाज ने उनकी सीधी गेंद पर स्वीप करने के प्रयास में स्क्वायर लेग पर कैच दिया। अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे जॉनी बेयरस्टो (31 गेंद पर 39 रन) ने रूट के साथ मिलकर आक्रामक रवैया अपनाया। उन्होंने अश्विन पर तीन छक्के भी लगाए लेकिन कुलदीप ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट करके उनकी पारी लंबी नहीं खिंचने दी। इस बीच उनकी पहली स्लिप में खड़े शुभमन गिल से नोक झोंक भी हुई।

भारत की पहली पारी 477 रनों पर हुई खत्म
इससे पहले भारत ने इंग्लैंड के 218 रन के जवाब में अपनी पहली पारी में 477 रन बनाए थे। भारत ने अपनी पहली पारी में सुबह केवल चार रन जोड़कर अपने बाकी बचे दो विकेट गंवाए। जेम्स एंडरसन इस बीच टेस्ट क्रिकेट में 700 विकेट लेने वाले दुनिया के पहले तेज गेंदबाज बने। उन्होंने कुलदीप (30) को विकेट के पीछे कैच करा कर यह उपलब्धि हासिल की जबकि ऑफ स्पिनर शोएब बशीर (173 रन देकर 5 विकेट) ने जसप्रीत बुमराह (20) को आउट करके पारी में अपना पांचवा विकेट लिया।