Friday, April 19, 2024
37.9 C
New Delhi

Rozgar.com

37.9 C
New Delhi
Friday, April 19, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomePoliticsआगामी लोकसभा चुनाव के दौरान तलाकशुदा जोड़े का आमना-सामना होने वाला है

आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान तलाकशुदा जोड़े का आमना-सामना होने वाला है

पश्चिम बंगाल
पश्चिम बंगाल में आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान तलाकशुदा जोड़े का आमना-सामना होने वाला है। राज्य में बनी इस तरह की स्थिति को लेकर काफी चर्चा हो रही है। तृणमूल कांग्रेस ने सुजाता मंडल को बांकुरा जिले की बिष्णुपुर सीट से टिकट दिया है, जो अपने पूर्व पति और भाजपा उम्मीदवार सौमित्र खान के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी। भाजपा ने इस महीने की शुरुआत में ही घोषणा कर दी थी कि खान बिष्णुपुर से चुनावी मैदान में उतारेंगे। अब टीएमसी ने रविवार को उसी सीट से मंडल के नाम का ऐलान कर दिया।

साल 2021 में पश्चिम बंगाल में पिछला विधानसभा चुनाव हुआ। इससे पहले ही सौमित्र खान और सुजाता मंडल में अलगाव हो गया। वैसे यह सीट तृणमूल ने जीत ली थी। खान की पत्नी जब TMC सदस्य तौर पर राजनीति में शामिल हुईं तभी उन्होंने कैमरे के सामने तलाक की घोषणा कर दी। सौमित्र की गिनती बिष्णुपुर के वरिष्ठ नेताओं में होती है। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले वह तृणमूल से भाजपा में शामिल हो गए थे। यह दिलचस्प है कि उस समय उनकी पत्नी ने उनके लिए प्रचार किया था।

टीएमसी के उम्मीदवारों की सूची में 12 महिलाओं के नाम
बता दें कि पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ टीएमसी ने रविवार को राज्य की सभी 42 लोकसभा सीट के लिए अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। पार्टी ने 7 सांसदों को टिकट नहीं दिया है और कुछ नए चेहरों को मैदान में उतारा है, जिनमें पूर्व क्रिकेटर यूसुफ पठान भी शामिल हैं। पार्टी ने 23 सांसदों में से 16 को फिर से उम्मीदवार बनाया है। तृणमूल कांग्रेस ने 7 मौजूदा सांसदों को टिकट नहीं दिया है जिनमें बैरकपुर से सांसद अर्जुन सिंह भी शामिल हैं जो 2 साल पहले भाजपा छोड़कर राज्य में सत्तारूढ़ दल में शामिल हो गए थे। टीएमसी के उम्मीदवारों की सूची में 12 महिलाओं के नाम हैं। 26 नए उम्मीदवारों में 6 व्यक्ति राजनीति के क्षेत्र में बिल्कुल ही नए हैं। इसके अलावा, पश्चिम बंगाल के 2 मंत्रियों-पार्थ भौमिक और बिप्लब मित्रा- सहित एक राज्यसभा सदस्य और 9 विधायकों को लोकसभा चुनावों के लिए टिकट दिया गया है।