20.7 C
New Delhi
Tuesday, March 5, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeED Is Conspiring To Kill MP Sanjay Singh: भाजपा के इशारे पर...

ED Is Conspiring To Kill MP Sanjay Singh: भाजपा के इशारे पर सांसद संजय सिंह को मरवाने की साजिश कर रही ईडी- दिलीप पांडे।

ED is conspiring to kill MP Sanjay Singh at the behest of BJP- Dilip Pandey.

  • ईडी कोर्ट को बिना जानकारी दिए दो बार सांसद संजय सिंह को अज्ञात जगह पर ले जाने की कोशिश की- दिलीप पांडे
  • संजय सिंह ने विरोध कर पूछा कि ऐसा किसके कहने पर किया जा रहा है, क्या इसकी जानकारी कोर्ट को है? ईडी ने कहा, ऊपर से आदेश है- दिलीप पांडेय
  • ईडी के ऊपर कौन बैठा है, जो बेखौफ व ईमानदार संजय सिंह से इतना डरा हुआ है? भाजपा-ईडी को जवाब देना चाहिए- दिलीप पांडे
  • अगर कोई व्यक्ति कस्टडी में है तो उसे कही ले जाने से पहले कोर्ट को जानकारी और उस व्यक्ति की सहमति लेनी होती है- दिलीप पांडे
  • परिवार को भी संजय सिंह से तय समय पर मिलने नहीं जा रहा है, ईडी उन्हें घंटों इंतजार करवाती है- दिलीप पांडेय
  • कोर्ट ने साफ कहा है कि बिना जानकारी दिए संजय सिंह को कहीं नहीं ले जा सकते और परिवार को तय समय पर मिलने दिया जाए- दिलीप पांडे
  • सबूत न होने के बावजूद देश की सबसे निडर आवाज़ को भाजपा ने अपने अहंकार की राजनीति की वजह से कैद में रखा है- दिलीप पांडेय
  • संजय सिंह की ये कैद 2024 चुनाव में भाजपा की हार के डर को उजागर करता है- दिलीप पांडेय

आम आदमी पार्टी ने बुधवार को ईडी पर गंभीर आरोप लगाए। ‘‘आप’’ के वरिष्ठ नेता एवं विधायक दिलीप पांडे ने कहा कि भाजपा के इशारे पर ईडी सांसद संजय सिंह को मरवाने की साजिश कर रही है और इसलिए ईडी कोर्ट को बिना जानकारी दिए दो बार सांसद संजय सिंह को अज्ञात जगह पर ले जाने की कोशिश की। जब संजय सिंह ने विरोध करते हुए पूछा कि ऐसा किसके कहने पर किया जा रहा है, क्या इसकी जानकारी कोर्ट को है, तो ईडी का कहना था कि उसे ऊपर से आदेश है। ईडी के ऊपर कौन बैठा है, जो बेखौफ व ईमानदार संजय सिंह से इतना डरा हुआ है। भाजपा और ईडी को इसका जवाब देना चाहिए। दिलीप पांडे ने कहा कि सबूत न होने के बाद भी देश की सबसे निडर आवाज़ को भाजपा ने अपने अहंकार की राजनीति की वजह से कैद में रखा है, जो 2024 में भाजपा की हार के डर को उजागर करता है।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं विधायक दिलीप पांडे ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेस कर कहा कि मंगलवार को कोर्ट में राज्यसभा संसाद संजय सिंह की पेशी के दौरान जो सच उजागर हुआ है, उससे भारतीय जनता पार्टी की घटिया राजनीति और प्रतिशोध की भावना का पर्दा फार्श हो गया है। कोर्ट में यह स्पष्ट हो गया कि ईडी भारतीय जमता पार्टी के इशारे पर सासंद संजय सिंह को मरवाने की साजिश कर रही है। यह एक बड़ा सवाल है और इस सवाल का जवाब ईडी और बीजेपी दोनों को देना चाहिए। भाजपा और ईडी दोनों मिल कर ऐसा षड़यंत्र रच रहे हैं, जिसमें सांसद संजय सिंह को जान का खतरा हो।

विधायक दिलीप पांडे ने मामले की विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि ईडी की कस्टडी में ऐसा दो बार हुआ कि कोर्ट की जानकारी के बगैर संजय सिंह को अज्ञात जगह पर ले जाने की कोशिश की गई। जब उन्होंने इसका विरोध किया और पूछा कि ऐसा किसके कहने पर किया जा रहा है और मुझे जहां लेकर जा रहे हैं क्या इसकी जानकारी आपने कोर्ट को दी है? तो ईडी ने जवाब दिया कि ऊपर से आदेश है। इसलिए प्रश्न उठता सवाल है कि ईडी को नियम-कानूनों और प्रक्रिया के ऊपर से कौन आदेश दे रहा है। ये बिल्कुल नियमों के खिलाफ है कि जब एक व्यक्ति आपकी कस्टडी में है तो उसको कोर्ट की जानकारी और उस व्यक्ति की सहमती के बगैर किसी अज्ञात जगह पर लेकर जाया जाएं। सवाल उठता है कि ऊपर कौन बैठा हुआ है जो नियमों को दरकिनार कर ईडी को कुछ करने के लिए प्रेरित कर रहा है।

विधायक दिलीप पांडे ने कहा कि दस घंटे रेड मारने के बाद भी सबूत के नाम पर जब कागज का एक टुकड़ा भी नहीं मिला, तब भी ईडी से ये बात निकलकर आई कि उनको किसी ने ऊपर से आदेश दिया है। ईडी के ऊपर वो कौन आदमी बैठा हुआ है जो बेखौफ और ईमानदार संजय सिंह से इतना डरा हुआ है कि उनकी आधारविहीन गिरफ्तारी और जान से मारने की साजिश रची जा रही है। यह एक बड़ा सवाल है, जिसका जबाव अगर ईडी और भाजपा अलग-अलग दें तो तस्वीर साफ हो जाएगी। साथ ही, हमें यह भी समझना पड़ेगा कि भाजपा जब आम आदमी पार्टियों के सांसदों को खरीद नहीं पाई, उन्हें तोड़ नहीं पाई और जब जेल में बंद कर दिया, तब भी उनके हौंसले पस्त नहीं हुए तो अब उन्हे मरवाने की साजिश की जा रही है।

‘‘आप’’ नेता दिलीप पांडे ने बताया कि संजय सिंह के परिवार के लोगों को मानसिक प्रताड़ना दी जा रही है। कानून के हिसाब से उन्हें परिवार के लोगों से मिलने का अधिकार है। इसका समय 6 से 7 बजे तक तय है। लेकिन जब उनके परिवार के लोग मिलने के लिए जाते है तो उन्हें इंतजार करवाया जाता है। यह मेंटल टॉर्चर की ट्राइट एंड टेस्टेड तकनीक है जिसे ईडी उनके परिवार पर इस्तेमाल कर रही है। हम कोर्ट के शुक्रगुजार है कि उसने लिखित में साफ-साफ कहा है कि बिना हमारी जानकारी के आप संजय सिंह को कहीं लेकर नहीं जा सकते और परिवार को मिलने का जो समय है, उस समय उन्हें मिलने दिया जाए। यह उनका अधिकार है।

विधायक दिलीप पांडे ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि ईडी इस वक्त बीजेपी की कोई रूल बुल फॉलो कर रही है, अन्यथा कोर्ट को इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए ईडी को यह नहीं कहना पड़ता कि जो आप कर रहे हैं, वह गलत है। इस देश के लिए बेहद दुर्भाग्यपूरण क्षण है कि जहां ढेले भर का सुबूत न मिलने के बावजूद इस देश की सबसे निडर आवाज को भाजपा ने अपनी अहंकार की राजनीति और बदले की भावना के ग्रसित होकर कैद में रखा है, जो 2024 में भाजपा की हार के डर को उजागर करता है।