Monday, April 15, 2024
24 C
New Delhi

Rozgar.com

24.1 C
New Delhi
Monday, April 15, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeStatesMadhya Pradeshसैनिकों के प्रति सम्मान भावना हमारा नैतिक दायित्व : श्री मंगुभाई पटेल

सैनिकों के प्रति सम्मान भावना हमारा नैतिक दायित्व : श्री मंगुभाई पटेल

भोपाल  
राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा कि सैनिकों के प्रति सम्मान की भावना हम सबका नैतिक दायित्व है। इससे सीमा पर तैनात सैनिकों में आत्मविश्वास एवं नई ऊर्जा का संचार होता है। यह सम्मान उनके परिजनों को भी मानसिक और भावनात्मक संबल देता है। राज्यपाल श्री पटेल ने राजभवन में आयोजित समामेलित विशेष निधि (ए.एस.एफ) के लिए विशेष सहयोग करने वालों के लिए सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर राज्यपाल द्वारा सैनिक कल्याण के लिए एक लाख रुपए से अधिक राशि का सहयोग देने वाले 24 व्यक्तिगत और संस्थागत सहयोगकर्ताओं 4 संभागों एवं जिलों को सम्मानित किया। समारोह में प्रमुख सचिव गृह श्री संजय दुबे, राज्यपाल के प्रमुख सचिव श्री संजय कुमार शुक्ल, अधिकारीगण और सहयोगकर्ता उपस्थित थे।

राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि सशस्त्र सेना झण्डा दिवस पर जन सहयोग से लगभग 4 करोड़ 36 लाख से अधिक राशि का संग्रहण उल्लेखनीय उपलब्धि है। उन्होंने लक्ष्य से अधिक सहयोग राशि का संग्रहण करने वाले संभागायुक्तों और कलेक्टर्स के प्रयासों की सराहना की तथा सहयोगकर्ताओं का अभिनंदन किया। कार्यक्रम में स्वागत उद्बोधन और आभार प्रदर्शन संचालक, सैनिक कल्याण ब्रिगेडियर श्री अरुण नायर ने किया।

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने संभागायुक्त नर्मदापुरम श्री पवन शर्मा, संभागायुक्त सागर श्री वीरेन्द्र सिंह रावत, संभागायुक्त जबलपुर श्री अभय वर्मा, संभागायुक्त उज्जैन डॉ. संजय गोयल को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किए। इसी प्रकार नीमच कलेक्टर श्री दिनेश जैन, हरदा कलेक्टर श्री आदित्य सिंह, रीवा कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल, अलीराजपुर कलेक्टर डॉ. अभय अरविन्द बेडेकर और छिन्दवाड़ा कलेक्टर श्री शीलेन्द्र सिंह को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किए। समारोह में शाजापुर, मंदसौर, उज्जैन, डिण्डोरी, श्योपुर, सागर, रतलाम, इन्दौर, सतना, दमोह, ग्वालियर, कटनी, जबलपुर, मण्डला, सीहोर, भोपाल, पन्ना एवं छतरपुर जिले को भी सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर बताया गया कि श्रीमती निर्मला शर्मा भोपाल ने 3 लाख, श्रीमती शीला बालकृष्ण देशमुख इन्दौर ने 5 लाख, उप संचालक ग्रीनको प्रा. लि. (सिद्धार्थ ग्रुप नीमच) श्री कमलेश सिंह परिहार ने 5 लाख, प्रेसीडेन्ट जिला केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन नीमच श्री अजित गाँग ने 2 लाख 21 हजार, क्षेत्रीय प्रबंधक सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया सागर सुश्री मोनिका श्रीवास्तव ने 12 लाख 77 हजार 830, श्रीमती निर्मला विद्या प्रसाद वर्मा इन्दौर ने 1 लाख 50 हजार, पटेल मोटर्स इन्दौर के श्री वल्लभ भाई पटेल ने 1 लाख 50 हजार, श्रीमती रीता मित्रा इन्दौर ने 1 लाख 10 हजार, श्रीमती अंजना सूरी रीवा ने 1 लाख 11 हजार, श्री राकेश अग्रवाल उज्जैन ने 1 लाख 11 हजार, संचालक एम.पी. बिरला अस्पताल सतना ने 1 लाख 1 हजार, डॉ. शशिकला जोशी उज्जैन ने 1 लाख 1 हजार, अधीक्षक संजय गांधी मेडिकल कॉलेज रीवा ने 1 लाख 111, श्री राजीव तिवारी छिंदवाड़ा ने 1 लाख, श्रीमती किरण अवस्थी इंदौर ने 1 लाख, प्रबन्धक नया गाँव टोल टेक्स, नीमच श्री आर.एल. मेघवाल ने 1 लाख, संचालक धानुका सोया प्रा. लि. नीमच ने 1 लाख, समदड़िया बिल्डर्स रीवा श्री अजीत समदड़िया ने 1 लाख, बद्रिका मोटर्स रीवा श्री सुनील सिंह ने 1 लाख, जनरल मैनेजर नागार्जुन कन्सट्रक्शन रीवा ने 1 लाख, सीनियर जनरल मैनेजर दिलीप बिल्डकान लिमिटेड रीवा ने 1 लाख, मैनेजिंग डायरेक्टर, जे पी थर्मल पॉवर प्लान्ट बीना (जिला सागर) ने 1 लाख, जनरल मैनेजर (एच आर) भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेडबीना रिफाईनरी ने 1 लाख और अध्यक्ष म.प्र.भू.पू.सै. कल्याण समिति भोपाल ने 1 करोड़ 25 लाख रुपये की सहयोग राशि दी है।

समामेलित विशेष निधि (ए.एस.एफ) प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल की अध्यक्षता में समामेलित विशेष निधि की राज्य प्रबंध समिति की 23वीं वार्षिक बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में पूर्व बैठक के पालन प्रतिवेदन की समीक्षा की गई। सैनिक कल्याण से संबंधित विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई तथा वार्षिक बजट का अनुमोदन किया गया।