Friday, April 19, 2024
37.9 C
New Delhi

Rozgar.com

37.9 C
New Delhi
Friday, April 19, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsगैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी 12 मार्च को शादी के बंधन में...

गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी 12 मार्च को शादी के बंधन में बंधने जा रहा, 200 पुलिसकर्मी, वेटरों को पहचान पत्र

नई दिल्ली
गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी 12 मार्च को शादी के बंधन में बंधने जा रहा है। द्वारका में वह लेडी डॉन अनुराधा चौधरी के साथ सात फेरे लेने वाला है। अनुराधा चौधरी को मैडम मिंज के नाम से भी जाना जाता है।  फिलहाल जेल में बंद काला जठेड़ी को दिल्ली की एक कोर्ट ने शादी के लिए 6 घंटे की पैरोल दी है। बताया जा रहा है कि इस शादी पर चार राज्यों की पुलिस के साथ सेंट्रल एजेंसियों की भी नजर  रहेगी। इस दौरान 200 पुलिसकर्मी मौजूद रहेंगे जो हर छोटी से छोटी चीज पर नजर रखेंगे। इस शादी के लिए द्वारका सेक्टर 3 में एक बैंक्वेट बुक किया गया है। ये बैंक्वेट संदीप के वकील ने 51,000 रुपए में बुक किया है। शादी में हाईटेक हथियार रखने वाले SWAT (स्पेशल वेपन्स एंड टेक्निक्स) कमांडो के साथ 250 पुलिसकर्मियों की तैनाती होगी। इनमें विशेष सेल, अपराध शाखा और हरियाणा की सीआईए (अपराध जांच एजेंसी) की टीमें शामिल होंगी।

शादी में शामिल होंगे 150 मेहमान
इस शादी में करीब 150 मेहमान शामिल होंगे। काला जठेड़ी के परिवार ने मेहमानों की लिस्ट पुलिस को सौंप दी है।  शादी के दौरान वेटरों और अन्य कर्मचारियों को पहचान पत्र दिए जाएंगे.

कौन है संदीप उर्फ ​​काला जठेड़ी?
संदीप उर्फ ​​काला जठे़ड़ फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद है। वह एक बार हरियाणा पुलिस की हिरासत से भाग चुका है और उसने दिल्ली पुलिस की हिरासत से अपने सहयोगी को भागने की भी साजिश रची थी। एक समय वांछित और 7 लाख रुपए के इनामी रहे हरियाणा के सोनीपत के काला जठेड़ी को दिल्ली की कोर्ट ने उसकी शादी के लिए छह घंटे की पैरोल दे दी है। वह अनुराधा चौधरी से शादी करेगा, जिसके कई आपराधिक रिकॉर्ड भी हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि काला जठेड़ी 2020 में फरीदाबाद कोर्ट ले जाते समय हरियाणा पुलिस की हिरासत से भाग गया था। उसके गिरोह के लोगों ने पुलिस को घेर लिया था और उन पर गोलियां चला दी  जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया था। 2021 में, काला जठेड़ी ने अपने सहयोगियों के साथ दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में गोलीबारी की थी और दिल्ली पुलिस की हिरासत से कुलदीप फज्जा नाम के व्यक्ति को छुड़ाने में कामयाब रहा था। बाद में फज्जा को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के साथ मुठभेड़ में पकड़ लिया गया था और फिर एनकाउंट में उसकी मौत हो गई।