Tuesday, May 28, 2024
38.1 C
New Delhi

Rozgar.com

38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 28, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeSportsहसरंगा को आईसीसी ने दो मैच के लिए निलंबित किया, गुरबाज पर...

हसरंगा को आईसीसी ने दो मैच के लिए निलंबित किया, गुरबाज पर मैच फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना

दुबई.
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने दाम्बुला में तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन के लिए श्रीलंका के कप्तान वानिंदु हसरंगा को दो मैच के लिए निलंबित किया है जबकि अफगानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज रहमानुल्लाह गुरबाज पर मैच फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना लगाया है। आईसीसी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि स्पिन गेंदबाजी ऑलराउंडर हसरंगा को 24 महीने की अवधि में कुल पांच डिमेरिट अंक मिलने के बाद उन पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसमें आईसीसी आचार संहिता का उनका नवीनतम उल्लंघन भी शामिल है।

आईसीसी ने बयान में कहा, ''श्रीलंका के टी20 अंतरराष्ट्रीय कप्तान और आईसीसी की टी20 अंतरराष्ट्रीय पुरुष खिलाड़ी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर मौजूद वानिंदु हसरंगा को आईसीसी आचार संहिता के नवीनतम उल्लंघन के बाद 24 महीने की अवधि के भीतर उनके कुल डिमेरिट अंक पांच तक पहुंचने के बाद दो मैचों के लिए निलंबित किया गया है। आचार संहिता के नवीनतम उल्लंघन के लिए उन पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना और तीन डिमेरिट अंक मिले हैं।'' हसरंगा से जुड़ी घटना बुधवार को तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के अंत में हुई जब वह फुलटॉस गेंद को नोबॉल करार नहीं दिए जाने के फैसले की आलोचना करने के लिए मैदानी अंपायर लिंडन हैनिबल के पास पहुंचे।

इस तरह हसरंगा को खिलाड़ियों और खिलाड़ियों के सहयोगी स्टाफ से जुड़ी आईसीसी आचार संहिता के नियम 2.13 के उल्लंघन का दोषी पाया गया। यह नियम अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान किसी खिलाड़ी, खिलाड़ियों के सहयोगी स्टाफ, अंपायर या मैच रैफरी से निजी दुर्व्यवहार से संबंधित है। आईसीसी ने कहा कि हसरंगा के पांच डिमेरिट अंक होने के कारण यह दो निलंबन अंक में बदल गया। आईसीसी ने कहा, ''इसका मतलब है कि उन्हें एक टेस्ट मैच या दो वनडे या टी20 अंतरराष्ट्रीय, जो भी पहले हो, के लिए प्रतिबंध झेलना होगा। नतीजतन हसरंगा को अगले महीने बांग्लादेश के खिलाफ श्रीलंका के शुरुआती दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में भाग लेने से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा।''

अफगानिस्तान के बल्लेबाज गुरबाज पर भी उसी मैच में आईसीसी आचार संहिता के लेवल एक के उल्लंघन के लिए जुर्माना लगाया गया। उन्होंने आचार संहिता के नियम 2.4 का उल्लंघन किया जो अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान अंपायर के निर्देश को नहीं मानने से संबंधित है। इसके कारण गुरबाज के अनुशासनात्मक रिकॉर्ड में एक डिमेरिट अंक जुड़ गया जो 24 महीने की अवधि में उनका दूसरा ऐसा अपराध है और उनके कुल दो डिमेरिट अंक हो गए हैं। आईसीसी ने कहा, ''बार-बार चेतावनी दिए जाने के बावजूद मैदान पर बल्ले की ग्रिप में बदलाव के लिए रहमानुल्लाह को सजा मिली।'' आईसीसी ने कहा कि दोनों खिलाड़ियों ने अपराध स्वीकार कर लिया है और मैच रैफरी के एलीट पैनल में शामिल क्रिस ब्रॉड द्वारा प्रस्तावित सजा को स्वीकार कर लिया है।

आईसीसी ने कहा, ''ये आरोप मैदानी अंपायर लिंडन हैनिबल और रवींद्र विमलासिरी, तीसरे अंपायर रुचिरा पल्लियागुरुगे और चौथे अंपायर रैनमोर मार्टिनेज ने लगाए थे।'' श्रीलंका ने अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय में अफगानिस्तान की तीन रन की करीबी जीत के बावजूद श्रृंखला 2-1 से जीती। हसरंगा को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए श्रृंखला का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया।