27.1 C
New Delhi
Friday, March 1, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeLok Sabha Chunav Survey: लोकसभा चुनाव से पहले बज गई एनडीए के...

Lok Sabha Chunav Survey: लोकसभा चुनाव से पहले बज गई एनडीए के लिए खतरे की घंटी।

Lok Sabha Chunav Survey: NDA for Mission 2024 Vs I.N.D.I.A. The fight seems to be fixed.

Lok Sabha Chunav Survey: 2024 का लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे-वैसे सभी राजनीतिक दल अपनी तैयारियां तेज करते जा रहे हैं। मिशन 2024 के लिए एनडीए बनाम I.N.D.I.A. की लड़ाई तय दिख रही है। हालांकि, लोकसभा चुनाव के लिए सामने आ रहे सर्वे में सत्तारूढ़ एनडीए के लिए खतरे की घंटी बजा दी है।

Screenshot 2023 08 17 at 12.54.37 PM
Lok Sabha Chunav Survey: लोकसभा चुनाव से पहले बज गई एनडीए के लिए खतरे की घंटी। 3

सीट भी कम होनें की उम्मीद

Lok Sabha Chunav Survey: एक रिपोर्ट के अनुसार 2024 में एनडीए सत्ता में तो आती दिख रही है लेकिन उसकी सीटें घट रही हैं। सर्वे के अनुसार, एनडीए को लोकसभा चुनाव में 296 से 236 सीटों का अनुमान लगाया गया है। I.N.D.I.A. को 160-190 सीटें मिल सकती हैं। गौरतलब है कि 2019 के लोकसभा में चुनाव में एनडीए को कुल 353 सीटें मिली थी जिसमें बीजेपी को अकेले 303 सीटों पर जीत मिली थी। 2019 में यूपीए को 91 सीटें मिली थीं जबकि अन्य को 98 सीटों पर जीत मिली थी।

Screenshot 2023 08 17 at 12.58.23 PM
Lok Sabha Chunav Survey: लोकसभा चुनाव से पहले बज गई एनडीए के लिए खतरे की घंटी। 4

NDA का वोट प्रतिशत भी घटेंगा

Lok Sabha Chunav Survey: सीटों के साथ-साथ एनडीए का वोट प्रतिशत भी घटता दिख रहा है। ETG रिसर्च के साथ किए गए टाइम्स नाउ सर्वे में एडीए को 42.60 प्रतिशत वोट मिलते दिख रहे हैं। वहीं I.N.D.I.A. को 40.20 फीसदी वोट मिल रहे हैं। अगर 2019 की बात करें तो एनडीए को 45% वोट मिले थे जिसमें अकेले 37% वोट बीजेपी को मिले थे। कांग्रेस को महज 19 फीसदी वोट मिले थे। यूपीए का वोट शेयर 30 फीसदी के करीब पहुंचा था।

मोदी की ख़तरे की घंटी बजने का अनुमान

Lok Sabha Chunav Survey: अगर वोट शेयर की बात करें तो एनडीए और I.N.D.I.A. के बीच की दूरी महज 2 फीसदी वोटों का रह गया है। हालांकि, अभी चुनाव में करीब 8 महीने का वक्त है। ऐसे में चीजें बदल सकती हैं लेकिन जिस तरीके से पूरे देश में विपक्षी गठबंधन इंडिया का वोट प्रतिशत बढ़ा है वो निश्चित तौर पर एनडीए के लिए खतरे की घंटी बजा चुका है। यही नहीं, कई वैसे राज्यों में भी बीजेपी या उसके सहयोगी दलों की सीटें घटती दिख रही है।

मोदी का करिश्मा करेगा काम?

Lok Sabha Chunav Survey: टाइम्स नाउ नवभारत के सर्वे की माने तो एनडीए को सत्ता विरोधी लहर का भी सामना करना पड़ेगा। ऐसे में पीएम नरेंद्र मोदी का करिश्मा क्या 2024 के चुनाव में फिर से करेगा काम? अब सबकी नजरें इसपर टिकी होंगी। उधर, इंडिया गठबंधन में अभी भी सबकुछ ठीक नहीं है। यानी आने वाले समय में अभी बहुत कुछ बदल भी सकता है।

यह भी पढ़ें :Kalki Temple: कल्कि मंदिर निर्माण में अड़चन दूर, अब प्रमोद कृष्‍णम बनवा सकेंगे भव्‍य धाम।