Tuesday, May 28, 2024
38.1 C
New Delhi

Rozgar.com

38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 28, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeSportsपड‍िक्कल का धर्मशाला टेस्ट में डेब्यू, यशस्वी-अश्विन और एंडरसन पर खास नजरें

पड‍िक्कल का धर्मशाला टेस्ट में डेब्यू, यशस्वी-अश्विन और एंडरसन पर खास नजरें

धर्मशाला
देवदत्त पडिक्कल ने इंग्लैंड के खिलाफ धर्मशाला में खेले जाने वाले पांचवें टेस्ट में भारत के लिए टेस्ट डेब्यू  किया. पडिक्कल को 100वां टेस्ट खेलने वाले रविचंद्रन अश्विन ने डेब्यू कैप सौंपी. इससे पहले रांची में खेले गए चौथे टेस्ट तेज़ गेंदबाज़ आकाश दीप ने भारत के लिए टेस्ट डेब्यू किया था. अब देवदत्त पडिक्कल को भी डेब्यू का मौका मिला है. पडिक्कल भारत के लिए टी20 इंटरनेशनल में डेब्यू कर चुके हैं.

इससे पहले बाएं हाथ के बैटर ने जुलाई, 2021 में श्रीलंका के खिलाफ खेले गए टी20 मुकाबले के ज़रिए भारत के लिए अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था. हालांकि उन्हें अब तक सिर्फ 2 टी20 इंटरनेशनल मुकाबले खेलने का मौका मिला है. कप्तान रोहित शर्मा ने बताया कि रजत पाटीदार की जगह देवदत्त को डेब्यू करने का मौका मिला. पाटीदार धर्मशाला टेस्ट से पहले ट्रेनिंग के दौरान चोटिल हो गए थे.

इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ में भारत के लिए कई खिलाड़ियों ने डेब्यू किया. सबसे पहले विशाखापटनम में खेले गए दूसरे टेस्ट में रजत पाटीदार ने भारत के लिए टेस्ट डेब्यू किया था. इसके बाद राजकोट में खेले गए तीसरे टेस्ट में सरफराज़ खान और ध्रुव जुरेल ने डेब्यू किया. इसके बाद रांची में खेले गए चौथे टेस्ट में तेज़ गेंदबाज़ आकाशदीप ने डेब्यू किया था.

अब तक ऐसा रहा देवदत्त पडिक्कल का फर्स्ट क्लास करियर

मध्य प्रदेश के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलने वाले देवदत्त पडिक्कल ने अब तक 58 फर्स्ट क्लास मैच खेल लिए हैं, जिनकी 99 पारियों में बैटिंग करते हुए उन्होंने 43.68 की औसत से 4063 रन बना लिए हैं. इस दौरान उन्होंने 12 शतक और 22 अर्धशतक लगाए हैं, जिसमें  उनका हाई स्कोर 196 रनों का रहा है.

सीरीज़ जीत चुकी है टीम इंडिया

बता दें कि पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ में भारतीय टीम 3-1 की अजेय बढ़त बना ली है. सीरीज़ के पहले मुकाबले में इंग्लैंड ने जीत दर्ज की थी. इसके बाद बाकी तीनों मैचों में भारत ने जीत की हैट्रिक लगा दी और अब सीरीज़ मेज़बान भारत धर्मशाला में जीत का चौका लगाने से मैदान पर उतरी है.

 

इस मुकाबले में भारतीय टीम के स्टार ओपनर 22 साल के यशस्वी जायसवाल अपने बल्ले से कई रिकॉर्ड्स की झड़ी लगा सकते हैं.

इनके अलावा इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के 700 विकेट्स पर भी खास नजरें रहेंगी. स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और जॉनी बेयरस्टो इस मुकाबले में उतरते ही इतिहास रचेंगे. यह इन दोनों के करियर का 100वां टेस्ट मुकाबला रहेगा. इसी तरह से इस धर्मशाला टेस्ट में 13 ऐतिहासिक रिकॉर्ड बन सकते हैं. आइए जानते हैं इनके बारे में…

1. अब भारत के पास 112 साल बाद ये रिकॉर्ड बनाने का मौका

यदि भारतीय टीम सीरीज का आखिरी मुकाबला भी अपने नाम करती है, तो वो टेस्ट इतिहास में 112 साल बाद एक ऐतिहासिक रिकॉर्ड अपने नाम कर लेगी. यह रिकॉर्ड 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में पहला मुकाबला हारकर अगले सभी 4 मैच जीतने का है.

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अब तक सिर्फ 3 ही बार ऐसा हुआ है. सबसे पहले 1897-98 के दौरान हुआ था. तब ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी. इसके बाद फिर दूसरी बार भी ऑस्ट्रेलिया ने ही यह उपलब्धि दोहराई. उन्होंने एशेज सीरीज 1901/02 में इंग्लैंड को 4-1 से रौंदा था.

तीसरी और आखिरी बार यह उपलब्धि इंग्लैंड ने हासिल की थी. उसने 1911/12 एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 4-1 से हराया था. अब यदि भारतीय टीम सीरीज का आखिरी मैच जीतती है, तो सीरीज पर 4-1 से कब्जा जमा लेगी. इसी के साथ भारतीय टीम 112 साल बाद 5 मैचों की किसी टेस्ट सीरीज में पहला मुकाबला हारने के बाद बाकी 4 मैच जीतने वाली पहली टीम बन जाएगी.

2. सुनील गावस्कर का रिकॉर्ड निशाने पर

यशस्वी से अगले मैच में सुनील गावस्कर का 53 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने की उम्मीद की जा रही है. दरअसल महान बल्लेबाज गावस्कर किसी एक द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय प्लेयर हैं. उन्होंने 1971 में वेस्टइंडीज के खिलाफ डेब्यू टेस्ट सीरीज में गदर मचा दिया था.

गावस्कर ने 4 टेस्ट मैचों में रिकॉर्ड 774 रन (डबल सेंचुरी समेत 4 शतक और तीन अर्धशतक) बनाए थे. तब गावस्कर का औसत 154.80 का रहा था. यह अब भी किसी टेस्ट सीरीज में सर्वाधिक रन बनाने का भारतीय रिकॉर्ड है.

जबकि इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में यशस्वी ने अब तक 8 पारियों में 655 रन बनाए हैं. यदि यशस्वी बाकी 2 पारियों में 120 रन बना लेते हैं, तो वह किसी एक द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे.

टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन (भारतीय बल्लेबाज)

सुनील गावस्कर vs विंडीज (1971)- 4 मैच, 774 रन, 154.80 एवरेज, 4 शतक
सुनील गावस्कर vs विंडीज (1978-79)- 6 मैच, 732 रन, 91.50 एवरेज, 4 शतक
विराट कोहली vs ऑस्ट्रेलिया (2014-15)- 4 मैच, 692 रन, 86.50 एवरेज, 4 शतक
विराट कोहली vs इंग्लैंड (2016)- 5 मैच, 655 रन, 109.16 एवरेज, 2 शतक
दिलीप सरदेसाई vs विंडीज (1971)- 5 मैच, 642 रन, 80.25 एवरेज, 3 शतक
यशस्वी जायसवाल vs इंग्लैंड (2024)- 4* मैच, 655* रन, 93.57 एवरेज, 2 शतक

3. अश्विन-बेयरस्टो का यह 100वां टेस्ट मुकाबला होगा

भारतीय स्पिनर अश्विन और इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो धर्मशाला टेस्ट मैच में उतरने के साथ ही धांसू रिकॉर्ड बना देंगे. दरअसल, यह इन दोनों का अपने करियर का 100वां टेस्ट मुकाबला होने वाला है. अश्विन यह उपलब्धि हासिल करने वाले 14वें भारतीय होने वाले हैं. जबकि बेयरस्टो 100 टेस्ट खेलने वाले 17वें इंग्लिश प्लेयर होंगे.

4. हिटमैन रोहित शर्मा बनेंगे टेस्ट में सिक्सर किंग

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा के पास टेस्ट करियर में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले भारतीय बनने का रिकॉर्ड अपने नाम करने का सुनहरा मौका है. रोहित अब तक 58 टेस्ट की 100 पारियों में 81 छक्के जमाने के साथ दूसरे भारतीय हैं. जबकि टेस्ट में भारत के लिए सबसे ज्यादा 91 छक्के वीरेंद्र सहवाग ने लगाए हैं.

यदि रोहित धर्मशाला टेस्ट में 11 छक्के जमाते हैं, तो वो सहवाग का रिकॉर्ड तोड़ देंगे. बता दें कि ओवरऑल टेस्ट करियर में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स के नाम है. उन्होंने अब तक 101 मैचों की 183 पारियों में 128 छक्के जमाए हैं.

5. अंग्रेजों के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में रनों का रिकॉर्ड

यशस्वी के पास अगले मैच में 1 रन बनाते ही विराट कोहली का एक धांसू रिकॉर्ड तोड़ने का सुनहरा मौका है. दरअसल, कोहली अंग्रेजों के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में 655 रन बनाने वाले भारतीय हैं. यशस्वी ने उनकी इस मामले में बराबरी कर ली है. अब वो 1 रन बनाते ही कोहली का यह रिकॉर्ड ध्वस्त कर देंगे.

6. दिग्गजों को इस मामले में भी पछाड़ने का सुनहरा मौका

इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में 2 शतक लगाने के मामले में यशस्वी और विराट कोहली संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर काबिज हैं. उनके साथ सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली समेत 11 भारतीय और शामिल हैं. जबकि इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा 3 शतक के मामले में मोहम्मद अजहरुद्दीन और राहुल द्रविड़ टॉप पर काबिज हैं. द्रविड़ ने यह उपलब्धि 2 बार हासिल की है. ऐसे में यशस्वी के पास अगले टेस्ट में 2 शतक लगाकर सभी को पीछे छोड़ने का सुनहरा मौका है.

7. इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में सिक्सर किंग बनने के करीब

यशस्वी ने इस सीरीज के 4 मैचों में कुल 23 छक्के जमा दिया हैं. इस तरह वो इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले भारतीय बन गए हैं. ओवरऑल यशस्वी संयुक्त रूप से तीसरे नंबर पर काबिज हैं. इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा 34 छक्कों का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के पूर्व प्लेयर विवियन रिचर्ड्सन के नाम है. ऐसे में यशस्वी के पास यह रिकॉर्ड भी तोड़ने का मौका है.

8. सबसे तेज एक हजार रन के मामले में पुजारा को पछाड़ेंगे

टेस्ट मैचों में यशस्वी ने अब तक 15 पारियों में 69.35 के औसत से 971 रन बना लिए हैं. यदि वो मैच में 29 रन बनाते हैं, तो वो सबसे तेज 1 हजार टेस्ट रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बन जाएंगे. इस मामले में चेतेश्वर पुजारा को पछाड़ देंगे, जिन्होंने 18 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी. वैसे भारतीयों में सबसे तेज एक हजार टेस्ट रन बनाने का रिकॉर्ड विनोद कांबली (14 पारी) के नाम है.

9. अश्विन 9 विकेट लेते ही इंग्लैंड के खिलाफ रचेंगे इतिहास

धर्मशाला टेस्ट में यदि अश्विन 9 विकेट और हासिल करते हैं, तो वो इंटरनेशनल क्रिकेट (टेस्ट, वनडे, टी20) में इंग्लैंड के खिलाफ 150 विकेट लेने वाले पहले भारतीय बन जाएंगे. साथ ही वर्ल्ड क्रिकेट में अश्विन यह उपलब्धि हासिल करने वाले दूसरे स्पिनर और ओवरऑल 7वें गेंदबाज बनेंगे. फिलहाल इंग्लैंड के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा 217 विकेट पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर शेन वॉर्न ने लिए.

10. बेयरस्टो 26 रन बनाते ही हासिल करेंगे ये उपलब्धि

इंग्लैंड के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो 6 हजार टेस्ट रनों के बेहद करीब हैं. उन्हें यह उपलब्धि हासिल करने के लिए सिर्फ 26 रनों की जरूरत है. बेयरस्टो 6 हजार रनों की उपलब्धि हासिल करने वाले इंग्लैंड के 17वें खिलाड़ी बनेंगे.

11. एंडरसन के पास भी इतिहास रचने का मौका

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज 2 विकेट लेते ही इतिहास रच देंगे. वो 700 टेस्ट विकेट पूरे कर लेंगे. यदि 41 साल के एंडरसन 2 विकेट लेते हैं, तो वो टेस्ट इतिहास में 700 विकेट लेने वाले पहले तेज गेंदबाज और ओवरऑल तीसरे खिलाड़ी बन जाएंगे. इससे पहले श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन (800) और ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न (708) ने यह उपलब्धि हासिल की है.

12. इंग्लिश कप्तान भी बनाएंगे ये धांसू रिकॉर्ड

इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स यदि धर्मशाला में 3 विकेट लेते हैं, तो वो अपने टेस्ट करियर के 200 विकेट पूरे कर लेंगे. वो अब तक बल्ले से भी 6314 रन बना चुके हैं. अब यदि स्टोक्स 3 विकेट लेते हैं, तो वो टेस्ट में 200+ विकेट लेने और 6000+ रन बनाने वाले दुनिया के तीसरे खिलाड़ी बन जाएंगे. अब तक यह उपलब्धि पूर्व ऑलराउंडर गैरी सोबर्स और जैक कैलिस ने हासिल की है.

13. जडेजा भी इस रिकॉर्ड के करीब पहुंचे

भारतीय टीम के स्टार स्पिन ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के पास भी एक दमदार रिकॉर्ड बनाने का मौका है. वो टेस्ट करियर में अपने 300 विकेट से सिर्फ 8 शिकार दूर हैं. यदि जडेजा धर्मशाला में 8 विकेट लेते हैं, तो वो टेस्ट करियर में 300 विकेट लेने वाले 7वें भारतीय बन जाएंगे.