21.8 C
New Delhi
Tuesday, March 5, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeStatesDelhi NewsFake Medicines: नकली दवाईयों पर बढ़ी सियासत, स्वास्थ्य मंत्री से वीरेंद्र सचदेवा...

Fake Medicines: नकली दवाईयों पर बढ़ी सियासत, स्वास्थ्य मंत्री से वीरेंद्र सचदेवा का सवाल।

Politics increased on fake medicines, Virendra Sachdeva’s question to the Health Minister.

  • दिल्ली की जनता आज मंत्री सौरभ भारद्वाज से एक सवाल पूछ रही है की जब उन्हे 7 मार्च को नकली घटिया दवाओं की जानकारी मिल गई थी तो उन्होने बात को 19 दिसम्बर तक जनता से क्यों छुपाया — वीरेन्द्र सचदेवा
  • दिल्ली की जनता दिल्ली सरकार के अस्पतालों में नकली एवं घटिया दवाओं के वितरण के लियें अरविंद केजरीवाल सरकार को कभी माफ नही करेगी — वीरेन्द्र सचदेवा
  • आज सौरभ भारद्वाज ने खुद स्वीकार किया की 7 मार्च को मंत्री बनते ही नकली एवं घटिया दवाओं की जानकारी मिल गई थी जो स्पष्ट करता है की यह घोटाला मनीष सिसोदिया के कार्यकाल या उससे पहले से चल रहा था — वीरेन्द्र सचदेवा
  • आश्चर्य की बात है हर बात पर जन संवाद का दावा करने वाली केजरीवाल सरकार ने नकली एवं घटिया दवाओं की जानकारी मिलने के बाद मंत्री भारद्वाज एवं उनके मुख्य मंत्री ने इस पर कोई जन चर्चा नही की, दवाई वितरण रोकने का आदेश नही दिया और केवल फाइल पर जांच आदेश देकर जिम्मेदारी की इतिश्री कर ली — वीरेन्द्र सचदेवा
  • दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा है की दिल्ली की जनता दिल्ली सरकार के अस्पतालों में नकली एवं घटिया दवाओं के वितरण के लियें अरविंद केजरीवाल सरकार को कभी माफ नही करेगी।

सचदेवा ने कहा है की स्वास्थ मंत्री सौरभ भारद्वाज लगातार दवाई घोटाले पर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं और आज उन्होने खुद स्वीकार किया की 7 मार्च को मंत्री बनते ही नकली एवं घटिया दवाओं की जानकारी मिल गई थी जो स्पष्ट करता है की यह घोटाला मनीष सिसोदिया के स्वास्थ मंत्री कार्यकाल या उससे पहले से चल रहा था। दवा घोटाले की जांच में तत्कालीन मंत्रियों मनीष सिसोदिया एवं सत्येन्द्र जैन की भूमिका की भी जांच होनी चाहिए।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है की केजरीवाल सरकार बात बात पर जन संवाद करने का दावा करती है पारदर्शी शासन का सपना दिखाती है पर आश्चर्य की बात है नकली एवं घटिया दवाओं की जानकारी मिलने के बाद मंत्री सौरभ भारद्वाज एवं उनके मुख्य मंत्री ने इस पर कोई जन चर्चा नही की, दवाई वितरण रोकने का आदेश नही दिया और केवल फाइल पर जांच आदेश देकर जिम्मेदारी की इतिश्री कर ली। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है की दिल्ली की जनता आज मंत्री सौरभ भारद्वाज से एक सवाल पूछ रही है की जब उन्हे 7 मार्च को नकली घटिया दवाओं की जानकारी मिल गई थी तो उन्होने बात को 19 दिसम्बर तक जनता से क्यों छुपाया ?

सौरभ भारद्वाज जवाबदेह हैं की 10 अक्टूबर को जांच रिपोर्ट आने के बाद भी वह 19 दिसम्बर को विजिलेंस विभाग की रिपोर्ट सार्वजनिक होने तक क्यों चुप रहे। सचदेवा ने कहा है की अधिकारियों पर जांच विलम्ब का आरोप लगाने वाले सौरभ भारद्वाज बतायें की जब उनकी जानकारी में था की अनेक दवाएं नकली एवं घटिया हैं तो फिर क्यों गत कुछ सप्ताह से अस्पतालों के दौरे पर दौरे कर वह शंकित नकली घटिया दवाओं का वितरण बढ़वा रहे थे।