Tuesday, May 21, 2024
36.1 C
New Delhi

Rozgar.com

36.1 C
New Delhi
Tuesday, May 21, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsइजरायल-हमास युद्ध के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों से सरकार पर दबाव बनाया जा...

इजरायल-हमास युद्ध के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों से सरकार पर दबाव बनाया जा रहा, सांसदों को मिल रही धमकियां

लंदन
इजरायल-हमास युद्ध के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों से सरकार पर दबाव बनाया जा रहा है। इसे लेकर प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने कहा कि ब्रिटेन भीड़ तंत्र की ओर बढ़ रहा है। सुनक के इस बयान की मानवाधिकार समूह ने आलोचना की है। सुनक बुधवार को पुलिस प्रमुखों के साथ बैठक कर रहे थे।

लोकतांत्रिक शासन की जगह ले रहा भीड़ शासन
उन्होंने कहा कि देश में बढ़ते हिंसक और डराने वाले व्यवहार का पैटर्न है, जिसका उद्देश्य स्वतंत्र बहस को खत्म करना और निर्वाचित प्रतिनिधियों को अपना काम करने से रोकना है। उन्होंने कहा कि इस बात पर आम सहमति बढ़ रही है कि भीड़ शासन लोकतांत्रिक शासन की जगह ले रहा है। हमें सामूहिक रूप से इसे तत्काल बदलना होगा।

कई सांसदों ने की थी धमकी मिलने की शिकायत
प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने कहा कि इजरायल का समर्थन करने के कारण धमकी मिलने की कई सांसदों ने शिकायत की थी। इसे लेकर सरकार की ओर से उनकी सुरक्षा बढ़ाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए 310 लाख पाउंड का फंड जारी किया गया है। इसकी मदद से उनकी सुरक्षा बढ़ाई जानी है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को धमकी, व्यवधान और तोड़फोड़ से बचाने के लिए मजबूत दृष्टिकोण अपनाएं।
 
भारतवंशियों को लुभाने के लिए लेबर पार्टी ने लांच किया संगठन
ब्रिटेन की लेबर पार्टी ने नया डायसपोरा आउटरीच आर्गेनाइजेशन लांच किया है। इसका उद्देश्य भारतवंशियों को अपनी ओर आकर्षित करना है। पार्टी से जुड़े नेता डेविड लेमी ने अपनी भारत यात्रा का जिक्र किया। साथ ही कहा कि अगर उनकी पार्टी जीतती है तो भारत और ब्रिटेन के संबंधों को और प्रगाढ़ बनाया जाएगा।