Tuesday, May 28, 2024
36.1 C
New Delhi

Rozgar.com

36.1 C
New Delhi
Tuesday, May 28, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeStatesRajasthanRajasthan: विदेशी पर्यटक की हरकत से भड़की हथिनी गौरी, सूंड से पकड़ा,...

Rajasthan: विदेशी पर्यटक की हरकत से भड़की हथिनी गौरी, सूंड से पकड़ा, घुमाया और फिर पटक दिया

जयपुर.

राजस्थान की राजधानी जयपुर के आमेर महल को पर्यटकों को सवारी कराने वाली हथिनी गौरी एक बार फिर भड़क गई। हथनी गौरी ने रूसी पर्यटक को पहले सूंड से पकड़ा, घुमाया और फिर फेंस दिया। गौरी के पटकने के कारण महिला पर्यटक घायल हो गई, बाद में उसे इलाज के लिए सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया। जानकारी के अनुसार यह घटना 13 फरवरी है। हाथी पर्यटकों को आमेर महल के जलेब चौक पर लेकर पहुंचे थे।

इस दौरान एक रूसी पर्यटक मारिया हथिनी गौरी पर बैठी हुई थी। मारिया के गौरी के मुंह और आंख पर हाथ लगाया तो वह भड़क गई और उसे उठाकर जमीन पर पटक दिया। प्रशासनिक वाहन से मरिया को तत्काल सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया। हाथी के पकटने के कारण उसके पेर में फ्रैक्चर हो गया था। इसके अलावा कुछ मामूली चोटें भी आई थीं।

    आमेर महल में “हथनी गौरी” pic.twitter.com/xRf9CdCVFJ
    — राजस्थानी ताऊ🆗 (@MansaRajasthani) February 28, 2024

हथिनी गौरी पर लगाया गया बैन
जनकारी के अनुसार घटना के बाद से हथिनी गौरी को सवारी के लिए अनफिट घोषित कर बैन लगा दिया है। यानी अब गौरी  पर्यटकों को सवारी नहीं करा सकेगी। उधर, एनिमल वेलफेयर के लिए काम कर रही संस्था पेटा (पीपल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स) ने हथनी गौरी को सेंचुरी भेजने की मांग की है। इसके लिए पेटा ने राजस्थान की उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी को पत्र भी लिखा है। साथ ही पेटा ने हाथियों की सवारी पर रोक लगाने की मांग करते हुए, इनकी जगह इलेक्ट्रिक वाहन चलाने की पेशकश की है।  
दुकानदार को भी पटक चुकी है गौरी
इससे पहले हथिनी गौरी 2022 में भी भड़क चुकी है। वह एक दुकान पर अपनी पसंदीदा मिठाई मावे की गुंजी खाने के लिए गई थी। इस दौरान दुकानदार रूपनारायण कूलवाल ने उसे गर्म और मसालेदार कचौरी खिला दी। इससे गौरी नाराज हो गई और दुकानदार को उठाकर पटक दिया था।
गौरी 20 साल से करा रही सवारी
जानकारी के अनुसार हथिनी गौरी करीब 20 साल से आमेर किले में आने वाले पर्यटकों को सवारी करा रही है। तीन साल की उम्र से वह पर्यटकों को अपनी पीठ पर बैठाकर घुमा रही है। लेकिन, अब गौरी पर बैन लगा दिया गया है।