17.9 C
New Delhi
Thursday, February 22, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeStatesDelhi NewsSakshi Malik: WFI के नए अध्यक्ष बने बृजभूषण शरण सिंह के करीबी,...

Sakshi Malik: WFI के नए अध्यक्ष बने बृजभूषण शरण सिंह के करीबी, तो साक्षी मलिक ने छोड़ी कुश्ती।

Sakshi Malik left wrestling.

सांसद बृजभूषण शरण सिंह के करीबी संजय सिंह गुरुवार (21 दिसंबर) को भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के नए अध्यक्ष बन गए. संजय सिंह के फेडरेशन चीफ बनते ही पहलवान साक्षी मलिक ने कुश्ती त्यागने का ऐलान कर दिया. उन्होंने आरोप लगाया है कि संजय सिंह बृजभूषण बिजनेस पार्टनर हैं।

वहीं, संजय सिंह ने अपनी बड़ी जीत के बाद मीडिया से कहा कि यह देश के उन हजारों पहलवानों की जीत है जिन्होंने पिछले 7-8 महीनों में नुकसान उठाया है. फेडरेशन के भीतर राजनीति के बारे में पूछे जाने पर संजय ने कहा, ”हम राजनीति का जवाब राजनीति से और कुश्ती का जवाब कुश्ती से देंगे.”

देर से हुए डब्ल्यूएफआई चुनाव में संजय सिंह के पैनल ने ज्यादातर पदों पर आसानी से जीत हासिल की है. भारतीय कुश्ती महासंघ के गुरुवार (21 दिसंबर) को हुए चुनाव में संजय सिंह को 40 वोट मिले, जबकि उनकी प्रतिद्वंद्वी अनीता श्योराण को सात वोट मिले.

राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता अनीता श्योराण का पैनल महासचिव का प्रमुख पद जीतने में कामयाब रहा. इस पद के लिए आरएसपीबी के पूर्व सचिव प्रेमचंद लोचब ने दर्शन लाल को 27-19 मतों से हराया. वहीं, राष्ट्रीय राजमार्गों पर फूड ज्वाइंट्स की चेन चलाने वाले और प्रदर्नकारी पहलवानों के करीबी माने जाने वाले देवेंदर सिंह कादियान ने आईडी नानावटी को 32-15 मतों से हराकर वरिष्ठ उपाध्यक्ष के पद पर दावा किया.

बृजभूषण खेमे के उम्मीदवारों ने कितने पद जीते?

बृजभूषण खेमे ने 15 में से 13 पदों पर जीत हासिल की. दिल्ली के जय प्रकाश (37), पश्चिम बंगाल के असित कुमार साहा (42), पंजाब के करतार सिंह (44) और मणिपुर के एन फोनी (38) ने चुनाव जीतकर उपाध्यक्ष के सभी चार पदों पर कब्जा कर लिया.

मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव चुनाव के लिए नहीं आए, उन्हें उपाध्यक्ष के लिए केवल पांच वोट मिले. बृजभूषण खेमे से ही उत्तराखंड के सत्यपाल सिंह देशवाल नए कोषाध्यक्ष बने हैं. उन्होंने जम्मू-कश्मीर के दुष्यंत शर्मा को हराया. देशवाल को 34 और शर्मा को 12 वोट मिले. कार्यकारिणी के पांचों सदस्य भी बृजभूषण के खेमे से हैं.

साक्षी मलिक ने किया कुश्ती त्यागने का ऐलान

बृजभूषण शरण सिंह के करीबी संजय सिंह के डब्ल्यूएफआई चीफ बनने पर पहलवान साक्षी मलिक ने गुरुवार (21 दिसंबर) को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कुश्ती से संन्यास लेने की घोषणा कर दी. साक्षी मलिक समेत कई महिला पहलवानों ने कुश्ती महासंघ के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण पर यौन शोषण के आरोप लगाए थे और दिल्ली में जंतर-मंतर पर कई दिनों तक धरना दिया था.

गुरुवार को साक्षी मलिक, बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट मीडिया के सामने काफी भावुक नजर आए. साक्षी मलिक ने कहा, ”…एक बात और कहना चाहूंगी कि लड़ाई लड़ी, पूरे दिल से लड़ी लेकिन अगर प्रेसिडेंट बृजभूषण जैसे आदमी ही रहता है जो उसका बिजनेस पार्टनर है, वो अगर इस फेडरेशन में रहेगा को मैं अपनी कुश्ती को त्यागती हूं…” उन्होंने कहा कि देशवासियों को धन्यवाद जिन्होंने आजतक इतना सपोर्ट किया और मुझे इस मुकाम तक पहुंचाया.”।