Tuesday, May 28, 2024
36.1 C
New Delhi

Rozgar.com

36.1 C
New Delhi
Tuesday, May 28, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsमराठा आरक्षण आंदोलन में फिर भड़की हिंसा, फूंकी बस, जालना में लगा...

मराठा आरक्षण आंदोलन में फिर भड़की हिंसा, फूंकी बस, जालना में लगा कर्फ्यू, इंटरनेट ठप

मुंबई
मराठा आरक्षण के लिए आंदोलन कर रहे मनोज जरांगे पाटील के आक्रामक रुख अपनाने के साथ ही राज्यभर में मराठा प्रदर्शनकारी भी आक्रामक हो रहे हैं। कुछ जगहों पर एसटी बस में आग लगाने की घटनाएं भी सामने आ रही हैं। हालांकि मनोज जरांगे ने मुंबई जाने का फैसला टाल दिया है।

बैकफुट पर मनोज जरांगे, लेकिन मराठा आक्रामक

मराठा आरक्षण आंदोलन के नेता मनोज जरांगे ने रविवार को बीजेपी नेता और राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने अपशब्द का भी इस्तेमाल किया था। इसके बाद उनके सहयोगी मंच पर आये और उन्हें समझाने का प्रयास किया। लेकिन मनोज जरांगे कुछ भी सुनने के मूड में नहीं थे।

अंतरवाली सराटीत में पत्रकारों से बात करते हुए जरांगे अचानक आक्रामक हो गए। जरांगे ने उपमुख्यमंत्री फडणवीस पर उन्हें जान से मारने की कोशिश करने का आरोप लगाया। उन्होंने मुंबई में फडणवीस के आवास सागर बंगले पर जाने का फैसला किया और तुरंत निकल पड़े। फिर रात में पास के भांबेरी गांव में ठहरे। सुबह फिर से मुंबई के लिए निकलने की योजना थी, लेकिन प्रशासन द्वारा कई तरह की पाबंदी लगाये जाने के चलते मनोज जरांगे ने अपना फैसला रद्द कर दिया। वे फिर अंतरवाली सराटीत लौट आये है। उन्होंने मराठा प्रदर्शनकारियों से शांति बनाये रखने की अपील की है और उनसे वापस लौटने का निवेदन किया है।

अंबड तालुका में हिंसा

जालना-घनसावंगी तालुका के तीर्थपुरी गांव में सोमवार सुबह कथित तौर पर प्रदर्शनकारियों ने एसटी बस को आग लगा दी। बस अंबड से रामसगाव जा रही थी। आज सुबह लगभग 6:30 बजे तीर्थपुरी गांव में अज्ञात लोगों ने बस को रोका और तोड़फोड़ के बाद उसमें आग लगा दी। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है।

जालना में कर्फ्यू लागू

कानून-व्यवस्था की स्थिति को ध्यान में रखते हुए जालना जिले के अंबड तालुका में कर्फ्यू लगा दिया गया है। हालांकि सरकारी कार्यालयों, स्कूलों, राष्ट्रीय राजमार्गों पर आवाजाही, दूध वितरण, मीडिया और अस्पतालों को इस आदेश से छूट दी गई है।

एसटी बस सेवा बंद

मनोज जरांगे के आंदोलन को देखते हुए प्रशासन अलर्ट हो गया है। इस बीच, पुलिस प्रशासन ने छत्रपति संभाजीनगर डिवीजन के सभी डिपो में एसटी बसों के यातायात को अस्थायी रूप से रोकने का आदेश दिया है। इसलिए राज्य परिवहन मंडल की एसटी बसों का परिवहन ठप पड़ गया है।

इंटरनेट ठप

मराठा आंदोलन के मद्देनजर मराठवाडा के तीन जिलों में इंटरनेट सेवा बंद रखने का फैसला किया गया है। कानून-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न होने के चलते प्रशासन ने यह फैसला लिया है। इसलिए छत्रपति संभाजीनगर, जालना और बीड जिलों में इंटरनेट सेवा 10 घंटे के लिए बंद रहेगी। गृह विभाग की अपर मुख्य सचिव सुजाता सैनिक ने इस संबंध में आदेश जारी किये हैं।

मनोज जरांगे मराठा समुदाय को ओबीसी कोटे से आरक्षण देने की मांग को लेकर 10 फरवरी से अंतरवाली सराटी में भूख हड़ताल कर रहे हैं। हालाँकि, राज्य सरकार ने विशेष सत्र बुलाकर मराठा समुदाय को अलग से 10 प्रतिशत आरक्षण देने का अध्यादेश पारित किया।