Monday, May 20, 2024
39 C
New Delhi

Rozgar.com

39 C
New Delhi
Monday, May 20, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeSports5वें टेस्‍ट में धर्मशाला में कैसा होगा पिच का मिजाज, पेसर्स होंगे...

5वें टेस्‍ट में धर्मशाला में कैसा होगा पिच का मिजाज, पेसर्स होंगे हावी या स्पिनरों का रहेगा बोलबाला?

धर्मशाला

धर्मशाला के एचपीसीए क्रिकेट स्टेडियम में इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मुकाबला 7 मार्च से खेला जाएगा। धर्मशाला के इस खूबसूरत स्टेडियम की सेंटर विकेट पर ये मैच आयोजित होगा। उम्मीद की जा रही थी कि यहां की ठंडक और तेज हवाओं का फायदा पिच से तेज गेंदबाज उठाएंगे। हालांकि, जो रिपोर्ट सामने आ रही है, उसके मुताबिक स्पिनरों का बोलबाला यहां देखने को मिल सकता है।

दरअसल, धर्मशाला में मौसम इस समय बहुत ज्यादा खराब है और अगले कुछ दिनों तक ऐसा ही रहने वाला है। यहां बारिश ने मैच में खलल डालने का पूरा मन बनाया हुआ है। इसी से बचने और मैच को जल्दी खत्म करने के लिए पिच को रैंक टर्नर बनाया जा सकता है। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट की मानें तो बेमौसम बरसात की वजह से क्यूरेटर को पिच पर काम करने का ज्यादा मौका नहीं मिला है।

हालांकि, अगले कुछ दिन में क्यूरेटर भारतीय टीम मैनेजमेंट के साथ बात करके ये फैसला करेगा कि किस तरह की पिच तैयार करनी है। ऐसा लग रहा है कि इंग्लैंड को एक बार फिर इस सीरीज में स्लो टर्नर का सामना करना पड़ेगा। इसी तरह के ट्रैक से भारतीय टीम ने सीरीज में वापसी की और सीरीज पर कब्जा किया, क्योंकि टीम पहला मैच हार गई थी और अगले तीन मैच जीतकर सीरीज अपने नाम करने में सफल रही।

भारतीय टीम प्रबंधन ने महसूस किया है कि किस प्रकार की पिच उसकी ताकत के अनुरूप है और वह आजमाए हुए और परखे हुए फॉर्मूले पर टिके रहने के लिए उत्सुक है। यही कारण है कि धौलाधार की पहाड़ियों के बीच बने इस स्टेडियम में स्पिनरों के भी खेल में आने की उम्मीद है। बेमौसम बारिश के कारण स्टेडियम का आउटफील्ड थोड़ा गीला है। बता दें कि पिछले साल मार्च में इस स्टेडियम ने आखिरी समय पर इंडिया वर्सेस ऑस्ट्रेलिया मैच आउटफील्ड की वजह से होस्ट नहीं किया था। इंदौर में वह मैच आयोजित कराया गया था। हालांकि, इसके बाद से यहां कई इंटरनेशनल मैच आयोजित हो चुके हैं।

बेमौसम बारिश के चलते आउटफील्ड भी गीला

माना जा रहा है कि इंग्लैंड की टीम को एक बार फिर स्लो टर्नर का सामना करना पड़ेगा। इसी तरह की पिच से टीम इंडिया ने सीरीज में वापसी करते हुए लगातार तीन टेस्‍ट जीतकर सीरीज पर कब्जा जमाया है। इसी वजह से धौलाधार की पहाड़ियों के बीच बने इस सुंदर मैदान में स्पिनरों को मदद मिलने की उम्मीद है। बेमौसम बारिश के चलते यहां आउटफील्ड भी थोड़ा गीला है।
धर्मशाला में हो सकती है स्पिनर्स की धूम

बताया गया है कि धर्मशाला में 4 मार्च को ही मौसम खुला है, जिसके बाद क्यूरेटर्स ने काम शुरू किया. ऐसे में पिच का बर्ताव कैसा होगा यह क्यूरेटर्स अगले कुछ दिनों में भारतीय टीम मैनेजमेंट के साथ बातचीत के बाद तय करेंगे. मगर इस बात की पूरी संभावना है कि पांचवें टेस्ट की पिच भी धीमे टर्न वाली ही रहेगी.

बता दें कि धर्मशाला स्टेडियम काफी ऊंचाई पर है. यहां काफी ठंड भी है. ऐसे में इस मैदान पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलने की संभावना रहती है, मगर जिस तरह की पिच दिख रही है कि उससे तो स्पिनर्स की ही धूम मचती दिखाई दे रही है.

धर्मशाला में कैसा है टेस्ट का इतिहास

धर्मशाला में पिछले एक साल में काफी काम हुआ है. यहां नई आउटफील्ड बनाई गई है. इसकी वजह से उसे पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट छोड़ना पड़ा था क्योंकि आउटफील्ड पूरी तरह से तैयार नहीं थी. लेकिन बाद में वर्ल्ड कप के कई मैच यहां खेले गए. हाल ही में रणजी ट्रॉफी मुकाबले भी हुए हैं. अभी आउटफील्ड किसी कारपेट की तरह नज़र आ रही है. अभी यहां एक ही टेस्ट खेला गया है जो 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ था. तब भारत ने आठ विकेट से जीत हासिल की थी. उस मुकाबले में स्पिनर्स की मौज रही थी.

धर्मशाला में 5वें टेस्ट के लिए भारतीय टीम:

रोहित शर्मा (कप्तान), जसप्रीत बुमराह (उप-कप्तान), यशस्वी जायसवाल, शुभमन गिल, रजत पाटीदार, सरफराज खान, ध्रुव जुरेल (विकेटकीपर), केएस भरत (विकेटकीपर), देवदत्त पडिक्कल, आर. अश्विन, रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, कुलदीप यादव, मोहम्मद सिराज, मुकेश कुमार, आकाश दीप.

भारत Vs इंग्लैंड टेस्ट सीरीज का शेड्यूल

1st टेस्ट: 25-29 जनवरी, हैदराबाद (इंग्लैंड 28 रनों से जीता)
2nd टेस्ट: 2-6 फरवरी, विशाखापत्तनम  (भारत 106 रनों से जीता)
3rd टेस्ट: 15-19 फरवरी, राजकोट (भारत 434 रनों से जीता)
4th टेस्ट: 23-27 फरवरी, रांची (भारत 5 विकेट से जीता)
5th टेस्ट: 7-11 मार्च, धर्मशाला