Tuesday, May 28, 2024
44 C
New Delhi

Rozgar.com

38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 28, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWorld Newsजहाज पर ड्रोन से हमला हुआ तो समुद्र में कूदा चालक दल,...

जहाज पर ड्रोन से हमला हुआ तो समुद्र में कूदा चालक दल, फिर बचाने आया INS कोलकाता

नई दिल्ली

बीच समुद्र में कॉमर्शियल जहाजों पर लगातार हमले जारी हैं। ऐसे में भारतीय नौसेना लगातार मुस्तैदी से भारतीय हितों की रक्षा के साथ-साथ दूसरे लोगों को भी बचा रही है। चार मार्च को नौसेना ने लाइबेरिया के ध्वज वाले कॉमर्शियल जहाज के चालक दल को सुरक्षित निकाला था जब उनके जहाज पर ड्रोन से हमला किया गया था। अब ऐसा ही कारनामा 6 मार्च को भी कर दिखाया। समुद्री सुरक्षा अभियानों के लिए तैनात भारतीय नौसेना के युद्धपोत ने 6 मार्च को अदन की खाड़ी में एक जहाज पर हमले के बाद नौसेना ने मदद भेजी।

भारतीय नौसेना ने अपने बयान में कहा कि बारबाडोस के झंडे वाले बल्क कैरियर एमवी ट्रू कॉन्फिडेंस पर अदन की खाड़ी से लगभग 55 नॉटिकल मील दक्षिण-पश्चिम में ड्रोन/मिसाइल से हमला किया गया। इस हमले से जहाज पर आग लग गई और चालक दल के कुछ सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए। आग इतनी भयानक थी कि चालक दल को लाइफ बोट लेकर समुद्र में कूदना पड़ा।

जान बचाने के लिए उन्होंने भारतीय नौसेना से मदद की गुहार लगाई। इसके बाद भारतीय नौसेना के आईएनएस कोलकाता की एंट्री हुई। नेवी ने कहा कि आईएनएस कोलकाता तुरंत घटनास्थल पर पहुंचा और अपने हेलीकॉप्टर और नौकाओं का इस्तेमाल करके एक भारतीय नागरिक सहित 21 चालक दल के सदस्यों को बचाया। इस दौरान युद्धपोत पर मौजूद चिकित्सा टीम द्वारा घायल चालक दल के सदस्यों का इलाज शुरू किया।

13 भारतीयों समेत चालक दल के सभी 23 सदस्य सुरक्षित

दो दिन पहले ही यानी 4 मार्च को भी इसी तरह की घटना सामने आई थी। अदन की खाड़ी में ही लाइबेरिया के ध्वज वाले कॉमर्शियल जहाज पर ड्रोन से हमला किया गया था। इसकी मदद भी भारतीय नौसेना ने ही की। भारतीय नौसेना ने बुधवार को कहा कि 13 भारतीय नागरिकों सहित मालवाहक जहाज का 23 सदस्यीय चालक दल सुरक्षित है। कथित तौर पर कॉमर्शियल जहाज एमएससी स्काई-2 पर चार मार्च को भारतीय समयानुसार शाम लगभग सात बजे अदन से लगभग 90 समुद्री मील दक्षिण-पूर्व में हमला किया गया था। भारतीय नौसेना ने जहाज के लिए युद्धपोत आईएनएस कोलकाता को तैनात किया था।

भारतीय नौसेना ने कहा, “हमले के बाद ‘मास्टर’ (पोत प्रभारी) ने जहाज पर धुआं उठने और आग लगने की सूचना दी। आईएनएस कोलकाता को तुरंत आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए भेजा गया और भारतीय समयानुसार रात साढ़े 10 बजे तक घटनास्थल पर पहुंच गया।” इसमें कहा गया है कि मंगलवार को भारतीय नौसेना के 12 कर्मियों की एक विशेषज्ञ अग्निशमन टीम व्यापारिक जहाज पर चढ़ी और अग्निशमन प्रयास में सहायता प्रदान की। नौसेना ने कहा, “13 भारतीय नागरिकों सहित 23 कर्मियों का दल सुरक्षित है और जहाज अपने अगले गंतव्य की ओर बढ़ रहा है।”