26.8 C
New Delhi
Friday, March 1, 2024

Advertisementspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeWomen Reservation Bill: 33 फीसदी आरक्षण मिला तो विधानसभा में डबल से...

Women Reservation Bill: 33 फीसदी आरक्षण मिला तो विधानसभा में डबल से ज्यादा होगी महिलाओं की संख्या।

Women Reservation Bill: Women’s Reservation Bill was introduced in the Lok Sabha on Tuesday.

Women Reservation Bill: राजस्थान से सांसद और केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने मंगलवार को लोकसभा में महिला आरक्षण बिल पेश किया है। नारी शक्ति वंदन अधिनियम दोनों सदनों में पास होता है तो राजस्थान विधानसभा में भी महिलाओं की तस्वीर बदलनी तय है। विधानसभा में 33 प्रतिशत सीटें आरक्षित होंगी। प्रदेश की विधानसभा में कुल 200 सीटें हैं और यदि आरक्षण बिल पास होता है तो 66 महिलाओं को विधानसभा में जगह मिलना तय है। संसद की नई इमारत के साथ ही महिलाओं को उनके हक की नई इबारत भी लिखी जा रही है। एक दिन पहले मोदी कैबिनेट ने महिलाओं के लिए लोकसभा और विधानसभा में 33 प्रतिशत आरक्षण के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।

Screenshot 2023 09 19 at 5.46.11 PM
Women Reservation Bill: 33 फीसदी आरक्षण मिला तो विधानसभा में डबल से ज्यादा होगी महिलाओं की संख्या। 2

राजस्थान विधानसभा में 27 से सीधे 66 महिला विधायक

Women Reservation Bill: संसद में महिलाओं को आरक्षण देने वाले बिल के पारित होने पर विधानसभा में भी महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। राजस्थान में भी इसका असर होगा। वर्तमान में यहां 27 महिला विधायक हैं और आरक्षण लागू हुआ तो ये संख्या दो गुना से भी ज्यादा यानी 66 हो जाएगी। दरअसल, राजस्थान विधानसभा में कुल 200 सीटें हैं और 33 प्रतिशत आरक्षण के साथ महिलाओं की कम से कम 66 सीटें आरक्षित होंगी।

7 से 27 और अब 66 के आंकड़े पर पहुंचेंगी महिलाएं

Women Reservation Bill: राज्यसभा सदस्य और राजस्थान विधायक के वरिष्ठ विधायक रहे घनश्याम तिवाड़ी ने महिला आरक्षण बिल को लेकर खुशी जताई है। उन्होंने बताया कि राजस्थान की पहली विधानसभा में कुल 7 महिला विधायक चुनी गई थीं। वर्तमान विधानसभा यानी 2018 में हुए चुनाव में 27 महिलाएं विधायक चुनी गईं। अब यदि आरक्षण लागू होता है 27 का आंकड़ा सीधे 66 तक पहुंच जाएगा।

सांसद 3 से 13 तक होगी संख्या

Women Reservation Bill: राजस्थान के वर्तमान में 3 सांसद है। तीनों बीजेपी की लोकसभा सदस्य हैं। कुल 25 सीटों में से 3 महिलाओं के पास हैं। वहीं 10 राज्यसभा की सीटों में कोई प्रतिनिधित्व नहीं है। नई आरक्षण व्यवस्था लागू होती है तो लोकसभा में 8-9 सीटे और राज्यसभा में 3-4 सीटें रिजर्व होंगी। यानी संसद में राजस्थान में 3 से 13 महिलाओं का प्रतिनिधित्व संभव होगा।

यह भी पढ़ें :https://www.khabronkaadda.com/bjpwomens-reservation-bill-2023-presented-in-parliament-today-by-narendra-modi/